आदेश दरकिनार, मैट्रिक परीक्षार्थियों के उतरवाए गए जूते, इस जगह का है मामला

आदेश दरकिनार, मैट्रिक परीक्षार्थियों के उतरवाए गए जूते, इस जगह का है मामला

सासाराम। मैट्रिक परीक्षा के लिए बोर्ड ने यह आदेश जारी किया था कि किसी परीक्षार्थी के जूते-मोजे नहीं उतारे जाएंगे। लेकिन सासाराम में इस आदेश का पालन नहीं किया जा रहा है। यहां के एक हाईस्कूल में परीक्षार्थियों को नंगे पांव परीक्षा हॉल में जाने के मजबूर किया गया है। 

मामला रौजा रोड स्थित उच्च विद्यालय चौखंडी का बताया जा रहा है। जहां बुधवार सुबह मैट्रिक परीक्षा देने गए परीक्षार्थियों को जूते-मोजे उतारने के लिए कहा गया, जब परीक्षार्थियों ने इसका विरोध किया तो उन्हें परीक्षा हॉल में जाने से रोक दिया गया। जिसके कारण मजबूर होकर सभी छात्रों को अपने जूते मोजे उतारने के लिए मजबूर होना पड़ा।  परीक्षा केंद्र पर तैनात दारोगा ने बताया कि विद्यालय प्रशासन द्वारा ऐसा कराया जा रहा है। जहाँ नकल रोकने की व्यापक व्यवस्था किया गया है। जांचोपरांत ही छात्रों को परीक्षा केंद्रों में प्रवेश दिया जा रहा है। चुकी आज परीक्षा का पहला दिन है। जिसको लेकर सभी तरह का गाइडलाइन फॉलो किया जा रहा है।

बता दें कि रोहतास जिला के 60 परीक्षा केंद्रों पर मैट्रिक की परीक्षा आयोजित की गई है। सासाराम के 33, डेहरी के 15 तथा बिक्रमगंज के 12 परीक्षा केंद्रों पर मैट्रिक के परीक्षा आयोजित की गई है।

Find Us on Facebook

Trending News