मौसमी बीमारी : वायरल बुखार से हाहाकार, एनएमसीएच का शिशु वार्ड फुल

मौसमी बीमारी : वायरल बुखार से हाहाकार, एनएमसीएच का शिशु वार्ड फुल

पटनासिटी. बिहार का दूसरा सबसे बड़ा अस्पताल एनएमसीएच बच्चा वार्ड नीकु, पीकू और जेनरल बेड मिलाकर 84 बेड है, लेकिन बच्चा मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी के कारण बच्चा वार्ड में कुल 87 बच्चा मरीज आ चुके हैं. कई बेड पर दो मरीज देखे गए.

एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ. बिनोद सिंह ने बताया कि अभी बच्चो में निमोनिया, बुखार, खांसी, सर्दी के पेशेंट ज्यादा है, जो एक तरह का इंफ्लूनजा है. उन्होंने कहा कि हमारे यहां सभी व्यवस्था है. लेकिन बेड से ज्यादा मरीज पहुंच रहे हैं. हालाँकि उन्होंने बताया कि इस मरीजों को कोरोना से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए, मौसम भी एक कारण है.

बता दें कि मौसम में परिवर्तन के चलते मौसमी बीमारी शुरू हो जाती है. लोग बुखार, सर्दी खांसी से ग्रस्त हो जाते हैं. ऐसे में एनएमसीएच में बेड फुल है. जिसके चलते मरीजों की परेशानी बढ़ सकती है.



Find Us on Facebook

Trending News