बिहार के सात विश्वविद्यालयों को मिले नए कुलपति और प्रतिकुलपति, राज्यपाल ने लगाई मुहर

बिहार के सात विश्वविद्यालयों को मिले नए कुलपति और प्रतिकुलपति, राज्यपाल ने लगाई मुहर

PATNA : बिहार के विश्वविद्यालयों में लंबे समय से खाली पड़े कुलपति और प्रतिकुलपतियों के पद पर आखिरकार नियुक्ति कर दी गई है। गुरुवार को राज्यपाल फागू चौहान ने प्रदेश के सात विश्वविद्यालयों में स्थायी कुलपति और प्रतिकुलपति की नियुक्ति पर अपनी मुहर लगा दी है. जिसके बाद नए कुलपतियों के नाम को सरकार द्वारा जारी कर दिया गया है। 

जिन विश्वविद्यालयों में कुलपति और प्रतिकुलपति की नियुक्ति की गई है उनमें मुंगेर विश्वविद्यालय, नालंदा खुला विश्वविद्यालय, मौलाना मजहरुल हक अरबी एवं फारसी विश्वविद्यालय, पूर्णिया विश्वविद्यालय, पाटलीपुत्र विश्वविद्यालय, वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय, कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने की थी राज्यपाल से मुलाकात

इन आठों विश्वविद्यालयों में कुलपति के नाम जारी करने से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यपाल फागू चौहान से मुलाकात की थी। जहां सीएम ने उनके सामने नए नामों को लेकर अपनी अनुशंसा संबंधी पत्र सौंपा था, जिसके बाद राज्यपाल ने इन नामों पर अपनी अंतिम सहमति प्रदान कर दी।

तीन साल के लिए हुई नियुक्ति

राज्यपाल कार्यालय से जारी पत्र के अनुसार नए कुलपतियों की नियुक्ति सिर्फ तीन साल के लिए की गई है। माना जा रहा है कि नए कुलपतियों की नियुक्ति के बाद से विवि में लंबित कार्यों तथा कॉलेज की शिक्षण व्यवस्था में सुधार आएगा।

इनको मिली नई जिम्मेदारी

मुंगेर विश्वविद्यालय – प्रो. श्यामा राय – कुलपति, प्रो. डॉ. जवाहर लाल - प्रतिकुलपति

नालंदा खुला विश्वविद्यालय – प्रो. कृष्ण चंद्र सिन्हा, कुलपति

मौलाना मजहरुल हक अरबी एवं फारसी विश्वविद्यालय, पटना – प्रो. मो. कुद्दुस – कुलपति

पूर्णिया विश्वविद्यालय – प्रो. राजनाथ यादव – कुलपति

पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय – प्रो. राजीव कुमार मल्लिक – प्रतिकुलपति

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय,आरा – प्रो. सीएस चौधरी – प्रतिकुलपति

कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय – प्रो. सिद्धार्थ शंकर सिंह

Find Us on Facebook

Trending News