11 दिन में श्याम रजक का राजद में हो गया प्रमोशन, प्रदेश उपाध्यक्ष से बने राष्ट्रीय महासचिव

11 दिन में श्याम रजक का राजद में हो गया प्रमोशन, प्रदेश उपाध्यक्ष से बने राष्ट्रीय महासचिव

पटना। 11 दिन पहले राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष बनाए गए श्याम रजक का प्रमोशन कर दिया गया है। पार्टी ने अब उन्हें राष्ट्रीय महासचिव बना दिया है। इसके साथ ही पार्टी ने अपनी गलती में सुधार कर लिया है। बता दें कि श्याम रजक को प्रदेश उपाध्यक्ष बनाए जाने पर सत्ता पक्ष के नेताओं ने चुटकी लेते हुए कहा था कि श्याम रजक को राजद ने उपाध्यक्ष बनाकर डिमोशन कर दिया। श्याम रजक जब जदयू में थे तब वहां राष्ट्रीय महासचिव थे।

चुनाव में नहीं मिला था टिकट

विधानसभा चुनाव के पहले जिन नेताओं ने अपनी पार्टी छोड़ी, उसमें एक बड़ा नाम श्याम रजक का था। उन्होंने जब राजद की सदस्यता ग्रहण की तब इस बात की बहुत चर्चा हुई कि श्याम रजक फुलवारी से चुनाव लड़ सकते हैं। लेकिन, फुलवारी की सीट महागठबंधन में माले के हिस्से में चली गई। इसके बाद उन्हें मसौढ़ी से टिकट देने की बात सामने आई, लेकिन बाद में उनकी जगह किसी और को मौका मिल गया और श्याम रजक चुनाव लड़ने से वंचित रह गए। वहीं राजद ने उन्हें राज्यसभा के उप चुनाव में सुशील मोदी के खिलाफ मैदान में उतारने की योजना बनाई थी। लेकिन अपनी हार निश्चित देखते हुए उन्होंने इससे इनकार कर दिया।  श्याम चुनाव भले नहीं लड़े लेकिन राजद में संगठन के स्तर पर लगातार सक्रिय रहे। अब राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने श्याम रजक को पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त कर दिया है।

मिल सकती है बंगाल की जिम्मेदारी

बताया जा रहा है राजद का राष्ट्रीय महासचिव बनाए जाने के बाद अब उन्हें बड़ी जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। बताया जा रहा है बंगाल में आनेवाले चुनाव को देखते हुए उन्हें वहां की जिम्मेदारी दी जा सकती है। इस संबंध में अगले एक सप्ताह में वह बंगाल और असम का दौरा भी करनेवाले हैं।



Find Us on Facebook

Trending News