दुरंतो एक्सप्रेस में हुई लूटपाट मामले में एसआईटी को मिली कामयाबी, एक को किया गिरफ्तार, बताया कैसे और कहां से चढ़े थे सभी लुटेरे

दुरंतो एक्सप्रेस में हुई लूटपाट मामले में एसआईटी को मिली कामयाबी, एक को किया गिरफ्तार, बताया कैसे और कहां से चढ़े थे सभी लुटेरे

PATNA : रविवार को 12274 दिल्ली-हावड़ा दूरंताे एक्सप्रेस में सालिमपुर हाॅल्ट के पास यात्रियाें से लूटपाट के मामले में गठित एसआईटी को बड़ी कामयाबी मिली है। मामले की जांच कर रही एसआईटी ने लूटपाट में शामिल गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है। जिसने इस पूरे लूटपाट की साजिश का खुलासा किया है।  गिरफ्तार लुटेरे का नाम राजू कुमार बताया गया है। उसे  एसआईटी ने बख्तियारपुर और आसपास के गांवों में छापेमारी कर गिरफ्तार कर लिया। वह बख्तियारपुर के बरियारपुर, नयाटाेला गांव का रहने वाला है।

उसके ठिकाने से लूट का एक माेबाइल, यात्री का आईकार्ड, दवा समेत कई सामान बरामद किया गया है। लूट की यह घटना बीते रविवार की सुबह हुई थी। सूत्राें के अनुसार, इस वारदात में आधा दर्जन और लुटेराें काे पुलिस तलाश रही है। ये सभी राजू के गांव के ही रहने वाले हैं और दियारा से आकर बसे हैं।

डीडीयू और पटना जंक्शन में चढ़े थे सभी

सूत्राें के अनुसार, वारदात काे अंजाम देने के लिए गिराेह में शामिल कुछ लुटेरे पटना जंकशन पर कई बाेगियाें में सवार हुए ताे कुछ दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर। इस गिराेह का तरीका यह है कि फतुहा से ट्रेन गुजरने के बाद वारदात काे अंजाम देना शुरू कर देता है। इनके निशाने पर महिला यात्री ही रहती हैं। पटना जंक्शन पर लगे कैमरे से गिराेह की पहचान हुई। डीडीयू पर लगे कैमरे में कैद फुटेज भी पुलिस मंगवा रही है। गिरफ्तार राजू ने सभी का नाम व ठिकाना बता दिया है।

तीन डीएसपी लगे थे दिन-रात

इस वीवीआईपी ट्रेन में हुई घटना के बाद रेल पुलिस महकमे में पटना से लेकर दिल्ली और पटना से लेकर हावड़ा तक हड़कंप मच गया था। घटना के बाद रेल एसपी पीके मंडल ने एसआईटी बनाई थी जिसमें तीन रेल डीएसपी फिराेज आलम, सुशांत कुमार चंचल और प्रशांत कुमार समेत छह रेल थानेदाराें काे लगाया गया था।

पिछले तीन दिनाें से 24 घंटे रेल एसपी के आदेश पर एसआईटी बख्तियारपुर व आसपास इलाके में छापेमारी करने में जुटी थी। रेल एसपी बताया कि एसआईटी ने बेहतर काम किया है। गिराेह के एक शातिर काे गिरफ्तार कर लिया गया है। इस घटना में शामिल अन्य लुटेरे जो फरार चल रहे हैं, वे पहले भी जेल जा चुके हैं। सभी काे दबाेचने के लिए एसआईटी छापेमारी करने में जुटी है।



Find Us on Facebook

Trending News