छपरा में जहरीली शराब से अब तक 8 लोगों की हुई मौत, एक दर्जन से अधिक लोगों का चल रहा है इलाज

छपरा में जहरीली शराब से अब तक 8 लोगों की हुई मौत, एक दर्जन से अधिक लोगों का चल रहा है इलाज

CHAPRA : जिले में जहरीली शराब पीने से हुई मौत का आंकड़ा 8 तक पहुंच गया है. सारण में एक पखवाड़े के अंदर जहरीली शराब कांड के दो बड़े मामले सामने आए हैं. जिसके बाद शराबबंदी को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. दर्जन भर लोग बीमार चल रहे हैं. 


मृतकों में गड़खा थाना क्षेत्र के औढा गांव निवासी स्वर्गीय कमरुद्दीन खान के 40 वर्षीय पुत्र अलाउद्दीन खां, मढौरा थाना क्षेत्र के भुआलपुर गांव निवासी रामा सिंह का 45 वर्षीय पुत्र पप्पू सिंह, देव महतो का 55 वर्षीय पुत्र कामेश्वर महतो, स्वर्गीय प्रभुनाथ राम के 55 वर्षीय पुत्र राम जीवन राम, भीखन सिंह के 38 वर्षीय पुत्र रोहित कुमार सिंह, स्वर्गीय कैलाश राय का 62 वर्षीय पुत्र हीरा राय, स्वर्गीय सुखन साह का 60 वर्षीय पुत्र लाल बाबू साह एवं मुबारक पुर निवासी भीषम राय शामिल हैं. वही द्वारिका महतो के 55 वर्षीय पुत्र रामनाथ महतो तथा नायक महतो के 60 वर्षीय पुत्र रामचंद्र राय का उपचार छपरा सदर अस्पताल में चल रहा है. मुबारकपुर निवासी भीष्म यादव की मौत शराब पीने से हो गई. 

मृतक के चचेरे भाई श्रवण राय ने बताया कि मृतक ससुराल अपनी भाभी के साथ रक्षाबंधन में गया था और वहीं पर उसकी तबीयत बिगड़ी. जिसके बाद उसने अपने चचेरे भाई को कॉल करके बुलाया और घर आने  की बात कही. घर आने के क्रम में ही अमनौर बाजार पर अचानक तबियत बिगड़ी और पानी पीने के लिए रुकवाया. 

देखते ही देखते युवक की स्थिति काफी खराब हो गई. जिसके बाद उसे अमनौर पीएचसी में भर्ती कराया गया. जहां ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक में सदर अस्पताल रेफर कर दिया. सदर अस्पताल आने के बाद ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक और हर्षित राज ने उसे मृत घोषित कर दिया. पूछताछ में भीष्म यादव ने बताया था की उसने भी भुवालपुर में शराब का सेवन किया था. फ़िलहाल भीष्म यादव के परिजनों में कोहराम मच गया है.

छपरा से शशि सिंह की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News