मगध विश्वविद्यालय में हुआ कुछ ऐसा कि अपनी जान बचाकर भागने को मजबूर हो गए परीक्षा नियंत्रक

मगध विश्वविद्यालय में हुआ कुछ ऐसा कि अपनी जान बचाकर भागने को मजबूर हो गए परीक्षा नियंत्रक

 GAYA : बिहार के पुराने विवि में शामिल मगध विश्वविद्यालय में आए दिन कुछ न कुछ शिकायतें होती रहती हैं। शुक्रवार को विवि के परीक्षा नियंत्रक डा. गजेंद्र कुमार गडकर के साथ भी कुछ ऐसा हुआ कि वह बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाकर भगने के लिए मजबूर हो गए। बताया गया कि यहां छात्रों के एक दल ने परीक्षा नियंत्रक डा. गजेंद्र कुमार गडकर पर हमला कर दिया गया। उनके वाहन का शीशा तोड़ा गया। उसके बाद उन्हें चालक ने एक बाइक लेकर सुरक्षित जगह पर पहुंचाया। 

इस कारण किया हमला

छात्रों का दल उनसे मिलने कार्यालय कक्ष पहुंचा था और लंबित परीक्षाफल प्रकाशित करने की मांग करने लगा। छात्रों की संख्या देख परीक्षा नियंत्रक डा. गडकर थोड़ा परेशान हो गए। छात्र जब अपनी मांग पर डटे रहे तो उन्होंने छात्रों से प्रभारी कुलपति व प्रभारी कुलसचिव से बात करने की सलाह दी। लेकिन उग्र छात्र मानने को तैयार नहीं थे। बाद में उन्होंने विवि थाना की पुलिस को सूचित किया और पुलिस व उनके विभागीय सहकर्मी ने उन्हें कक्षा से सुरक्षित निकाल बाहर ले गए। 

गाड़ी का शीशा तोड़ दिया

बाहर निकलने के बाद ज्योंहि वे अपने वाहन में सवार हुए, पीछे से छात्रों ने नारेबाजी करते हुए पत्थरबाजी शुरू कर दी। जिससे उनके वाहन का शीशा टूट गया। हालांकि उनके वाहन के चालक ने सूझबूझ दिखाते हुए एक बाइक से उन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया।

परीक्षा नियंत्रक डा. गडकर ने बताया कि घटना की सूचना एसपी को देते हुए विवि थाना में अज्ञात छात्रों के विरुद्ध में मामला दर्ज कराया गया है। उन्होंने कहा कि लगता है कि यह घटना पूर्व से सुनियोजित था। लेकिन भगवान के आर्शीवाद से हम बच गए।

Find Us on Facebook

Trending News