सोनिया गांधी पर लगा 'भ्रष्टाचार' का बड़ा आरोप, कांग्रेस का दावा- जानबूझकर फंसा रही मोदी सरकार, आज देशव्यापी प्रदर्शन

सोनिया गांधी पर लगा 'भ्रष्टाचार' का बड़ा आरोप, कांग्रेस का दावा- जानबूझकर फंसा रही मोदी सरकार, आज देशव्यापी प्रदर्शन

DESK. कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी पर 'भ्रष्टाचार' का बड़ा आरोप लगा है. उनके खिलाफ डेकन हेराल्ड मामले में कथित अनियमितता की शिकायत है जिसे लेकर गुरुवार को प्रवर्त्तन निदेशालय सोनिया गांधी से पूछताछ करेगी. वहीं कांग्रेस की ओर से कहा जा रहा है कि केंद्र की मोदी सरकार जानबूझकर सोनिया गांधी को परेशान कर रही है. मोदी सरकार केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरूपयोग कर रही है. कांग्रेस ने इसी कारण सोनिया गांधी से पूछताछ के खिलाफ गुरुवार को देशभर में राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन करने का निर्णय किया है. 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने बुधवार रात राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के आवास पर बैठक की और गुरुवार के लिये रणनीति पर चर्चा की. इसमें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता और सांसद शामिल हुए. गहलोत ने ट्वीट किया, खड़गे के निवास पर बैठक हुई. कांग्रेस के कार्यकर्ता सोनिया के प्रति एकजुटता प्रकट करते हुए देश भर में प्रदर्शन करेगी.

कांग्रेस का कहना है कि विपक्ष की आवाज को कुचला जा रहा है. विपक्ष को ईडी निशाना बना रही है. सोनिया गांधी की पेशी के मद्देनजर ही बृहस्पतिवार सुबह वरिष्ठ नेता और सांसद कांग्रेस पार्टी मुख्यालय में जमा हो गए हैं. उनका कहना है कि भारतीय युवा कांग्रेस और भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) के कई पदाधिकारी और कार्यकर्ता भी दिल्ली पहुंचे हैं. कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया, ‘‘मोदी-शाह (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह) की जोड़ी द्वारा हमारे शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ जिस प्रकार से राजनीतिक प्रतिशोध जारी है, उसके विरुद्ध कांग्रेस पार्टी अपनी नेता सोनिया गांधी के साथ सामूहिक एकजुटता व्यक्त करते हुए कल देश भर में प्रदर्शन करेगी. सोनिया गांधी से पूछताछ के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस मुख्यालय और ईडी कार्यालय के निकट सुरक्षा चाकचौबंद कर दी है.


कांग्रेस अध्यक्ष को पहले भी आठ जून को पेशी के लिए नोटिस जारी किया गया था, लेकिन कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण उन्हें 23 जून के लिए समन जारी किया गया था. ईडी ने सोनिया गांधी के पुत्र और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से इस मामले में पांच दिनों तक कई सत्र में 50 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी. यह जांच कांग्रेस द्वारा प्रवर्तित यंग इंडियन प्राइवेट लिमिटेड में कथित वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित है, जो नेशनल हेराल्ड अखबार का मालिक है.

सोनिया, राहुल से पूछताछ की कार्रवाई पिछले साल के अंत में ईडी द्वारा धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत एक नया मामला दर्ज करने के बाद शुरू की गई. इससे पहले, एक निचली अदालत ने 2013 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी द्वारा दायर एक निजी आपराधिक शिकायत के आधार पर यंग इंडियन के खिलाफ आयकर विभाग की जांच का संज्ञान लिया था.


Find Us on Facebook

Trending News