सुखदेव की जिद के आगे झुके परिजन, खटिया के सहारे पहुंचे पोलिंग बूथ, कुछ ऐसा रहा नजारा

सुखदेव की जिद के आगे झुके परिजन, खटिया के सहारे पहुंचे पोलिंग बूथ, कुछ ऐसा रहा नजारा

कटिहार... बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में सुबह से ही लोगों में उत्साह दिख रहा है। न तो किसी की उम्र बाधा आड़े आ रही है और न ही किसी शारीरिक बीमारी। अपने जनप्रतिनिधि को चुनने के लिए लोग जहां भी और जिस हाल में हैं उसी हाल में मतदान करने के लिए पोलिंग बूथ पर पहुंच रहे हैं। कुछ लोग नदी पार कर रहे हैं तो कुछ अस्पताल में रहते हुए भी दूसरों की मदद से अपने मत का प्रयोग कर रहे हैं। उनका कहना है कि मतदान करना लोकतंत्र में उनका अधिकार है, ताकि देश के भविष्य को बेहतर बनाया जा सके। 

इसी सोच के साथ कटिहार में भी लोकतंत्र का महापर्व बड़े ही उत्साह के साथ लोग मना रहे हैं। बताते चलें पिछले दो चुनावो में मतदान के मामले में मत प्रतिशत को लेकर कटिहार अव्वल रहा है। इस बार भी इसी जज्बे के साथ स्थानीय लोग अपने मत का प्रयोग करने पोलिंग बूथ पर पहुंचे। मतदान करने वालों में सिर्फ युवा ही नहीं बुजुर्गांे की संख्या खासी रही और अपनी उम्र की बाधा और शारीरिक कष्ट को पीछे छोड़ मतदान केंद्र पहुंचे। 

लोकतंत्र को मजबूत बनाने का जज्बा तब देखने को मिला जब 100 साल के सुखदेव अस्पताल में भर्ती होने के बावजूद भी अपने केंद्र पर आकर वोटिंग की।  नजारा कोरोना काल के बावजूद बेहद शानदार है। कटिहार के उत्क्रमित मध्य विद्यालय बलुआ बूथ नंबर 29 से आया है, जहां 100 साल पूरा कर चुके सुखदेव मंडल गंभीर रूप से बीमार रहने के बावजूद उनके परिजन मतदान को लेकर उनके जिद के सामने हार मानते हुए खटिया में सलाइन लगाकर उन्हें मतदान के लिए लेकर लाया गया। बूथ संख्या 29 पर उनके इस जज्बे को लेकर लोग भी सलाम कर रहे हैं।

सुखदेव के जज्बे को देखकर कुछ देर के लिए लोग उनकी तरफ ही एकटक देखते रह गए। लोगों ने कहा कि हम इतनी मजबूती के साथ प्रतिबद्ध होते हैं, लेकिन हमारे नेता भी काश क्षेत्र के विकास के लिए कुछ सुखदेव की तरह ही संकल्पित होते। 


Find Us on Facebook

Trending News