आप रस्सी को सांप बताते रहिए.....CM नीतीश ने भ्रम दूर कर दिया है,10 जनवरी 2020 से लागू हो गया चुका है नागरिकता कानून

आप रस्सी को सांप बताते रहिए.....CM नीतीश ने भ्रम दूर कर दिया है,10 जनवरी 2020 से लागू हो गया चुका है नागरिकता कानून

PATNA: बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने विरोधियों पर कड़ा वार किया है।उन्होंने कहा है कि विरोधी रस्सी को सांप बताते रहें लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सारा भ्रम दूर कर दिया है।10 जनवरी 2020 से नागरिकता कानून लागू हो चुका है।

सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि दस जनवरी, 2020 से लागू नागरिकता कानून को लेकर एनडीए एकजुट है। नागरिकता और जनगणना के मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भ्रम दूर कर दिए।  इसके बावजूद जिनकी राजनीति किसी समुदाय को डराने और बांटने पर टिकी है, वे रस्सी को सांप ही बताते रहेंगे।

जो कानून पडोसी देशों से आये पीड़ित शरणार्थियों को नागरिकता देने के लिए बना, उसे देश के किसी व्यक्ति, समुदाय या धर्म के खिलाफ साबित करना 2020 के दशक का सबसे बड़ा झूठ है। इस झूठ के लिए महागठबंधन और वामदलों ने पिछले महीने दो बार बंद कराकर सरकारी सम्पत्ति को जो नुकसान पहुंचाया, वह क्या असहमति प्रकट करने का लोकतांत्रिक तरीका था?

उन्होंने तेजस्वी पर अटैक करते हुए कहा कि राजद के युवराज संविधान बचाओ यात्रा की नौटंकी करते हैं, जबकि मुख्यमंत्री जैसे संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति के लिए धोखेबाज जैसे घटिया शब्द का प्रयोग करते हैं।  वे बतायें कि जिस मुख्यमंत्री के समय चारा घोटाला, अलकतरा घोटाला, बीएड डिग्री घोटाला हुआ, उसके बारे में कौन-सा शब्द प्रयोग करेंगे? 

 क्या घोटाले और भ्रष्टाचार से  बिहार को खोखला बनाना राजद की विचारधारा का हिस्सा है? 



Find Us on Facebook

Trending News