राज्यसभा से सस्पेंड सांसदों ने गांधी प्रतिमा के सामने रातभर दिया धरना, सुबह चाय लेकर पहुंची ममता बनर्जी की पार्टी

राज्यसभा से सस्पेंड सांसदों ने गांधी प्रतिमा के सामने रातभर दिया धरना, सुबह चाय लेकर पहुंची ममता बनर्जी की पार्टी

DESK. राज्यसभा  की कार्यवाही बाधित करने को लेकर सदन से निलंबित किए गए 20 विपक्षी सांसदों ने बुधवार को संसद भवन परिसर के अंदर 50 घंटे का क्रमिक विरोध प्रदर्शन शुरू किया. अब यह सवाल उठ रहा है कि क्या निलंबित सांसदों का निलंबन सदन वापस करेगा या नहीं. विपक्ष ने साफ कह दिया है कि जब तक सांसदों का निलंबन रद्द नहीं किया जाता है तब तक विपक्ष सदन में हो रही किसी भी चर्चा में शामिल नहीं होगा.

सस्पेंड सांसदों ने बुधवार को रातभर गांधी प्रतिमा  के सामने प्रदर्शन किया. संस्पेड विपक्षी पार्टियों के सांसद  50 घंटे का विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. यह विरोध बुधवार सुबह 11 बजे शुरू हुई है और माना जा रहा है कि शुक्रवार दोपहर तक चलेगा. सांसद संसद परिसर के अंदर बनी गांधी प्रतिमा के सामने धरने पर बैठे हुए हैं. 

इस बीच, कांग्रेस के निलंबित सांसद मनिकम टैगोर  ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. जिससे टैगोर ने स्वास्थ्य मंत्री  को टैग किया है और लिखा है कि संसद परिसर में मच्छर हैं, लेकिन विपक्षी सांसद डरते नहीं हैं. मनसुख मंडाविया जी कृपया संसद में भारतीयों का ब्लड बचाइए, बाहर अडानी उनका खून चूस रहे हैं. इस वीडियों में मच्छर भगाने वाली कॉइल जलती हुई भी दिखाई दे रही है. धरना प्रदर्शन कर रहे सांसदों में टीएमसी से शांतनु सेन और डेरेक, सीपीआई से संदोश कुमार, आम आदमी पार्टी के संजय सिंह, टीआरएस से रविचंद्र वद्दीराजू और एक डीएमके के सांसद शामिल थे.

सुबह के बाद रिले रोस्टर  के हिसाब से दूसरे सांसद धरना प्रदर्शन करेंगे. टीएमसी की निलंबित राज्यसभा सांसद मौसम नूर सुबह छह बजे धरना दे रहे सांसदों के लिए चाय लेकर पहुंची थी. वहीं सुबह का नास्ता डीएमके की ओर से लाया गया. सपा के राज्यसभा सांसद रामगोपाल यादव सुबह 10 बजे एकजुटता दिखाने के लिए आयेंगे.

Find Us on Facebook

Trending News