अपने बगावती फैसले पर तेजप्रताप रहेंगे कायम ! कहा- रघुकुल रीत सदा चली आयी, प्राण जाय पर वचन ना जाये

अपने बगावती फैसले पर तेजप्रताप रहेंगे कायम ! कहा- रघुकुल रीत सदा चली आयी, प्राण जाय पर वचन ना जाये

PATNA : लालू के बड़े लाल तेजप्रताप यादव ने रामनवमी के मौके पर प्रदेशवासियों को अपनी शुभकामना दी है। वहीं उन्होंने इस शुभकामना के माध्यम से लोगों को यह संदेश भी देने की कोशिश की है कि वे अपने फैसले पर अडिग हैं और रहेंगे।
दरअसल तेजप्रताप यादव ने ट्वीट के माध्यम से रामनवमी की शुभकामना प्रदेशवासियों को दी है। ट्वीट में उन्होंने लिखा है मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम ने जीवन में सत्य, नैतिकता, न्याय और निष्ठा के प्रतिमान स्थापित किए हैं, वे हम सभी के लिये अनुकरणीय हैं। श्रीरामनवमी की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।

वहीं उन्होंने लिखा है में लिखा, रघुकुल रीत सदा चली आयी।। प्राण जय पर वचन ना जाये। तेजप्रताप का लिखा यह ट्वीट राजनीतिक गलियारे और लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है।
 
 माना जा रहा है कि तेजप्रताप ने ये ट्वीट कर अपने उस फैसले पर अडिग रहने के संकेत दिए हैं जिसमें उन्होंने कहा है कि वे जहानाबाद और शिवहर में अपने द्वारा घोषित उम्मीदवार के लिए प्रचार करेंगे। इतना ही नहीं यह भी माना जा रहा है कि वह अपने ससुर चंद्रिका राय के खिलाफ सारण से चुनाव लड़ सकते हैं।
 
 बताते चले कि तेजप्रताप यादव अक्सर सांकेतिक भाषा में अपनी भावनाओं का इजहार करते रहते हैं। इसके  लिए वे ट्विटर का सहारा लेते हैं। हाल में ही तेजस्वी यादव द्वारा उनकी मांग को ठुकराए जाने के बाद ट्वीट के माध्यम से अपनी भावना का इजहार किया था।  तेजप्रताप ने आहत होकर लिखा था, दुर्योधन वह भी दे ना सका, आशीष समाज की ले न सका, उलटे, हरि को बांधने चला, जो था असाध्य, साधने चला। जब नाश मनुज पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है।

Find Us on Facebook

Trending News