FIR पर गुस्से में तेजप्रताप यादव, बोले- झारखंड सरकार पर दर्ज हो मुकदमा

FIR पर गुस्से में तेजप्रताप यादव, बोले- झारखंड सरकार पर दर्ज हो मुकदमा

पटना : तेजप्रताप यादव आज आरजेडी कार्यालय पहुंचे. जहां उन्होंने पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की है. साथ ही आरजेडी कार्यालय में चल रहे निर्माण कार्य का विस्तार से जायजा लिया. और बाद में मीडिया ने बात करते हुए अपने ऊपर हुए एफआईआर पर बड़ा बयान दिया. तेजप्रताप यादव ने कहा है कि केस तो झारखंड सरकार पर होना चाहिए. 

तेजप्रताप यादव ने कहा है कि बिहार में स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई है. बिहार में न डॉक्टर है, न दवा है. अस्पताल में जमीन पर मरीज को लिटा देते हैं. इस बार बिहार सरकार का जाना तय है. संगठन में जो आदमी काम करता है, उसके लिए टिकट का डिमांड किया जाता है. सब लोग अपना अपना राय रखने का काम करते हैं. पहले हम सर्वे करवाएंगे. फिर जिताऊ उम्मीदवार को टिकट देंगे. 


रांची में तेजप्रताप यादव पर एफआईआर दर्ज किया गया है. इस पर बोलते हुए तेजप्रताप यादव ने कहा है कि देखिए हम 4 गाड़ियों के साथ गए थे. हमारे साथ पीछे से कितनी गाड़ियां गई थी. ये हमको नहीं पता है. जो पीछे से आ जाते हैं हम उनके साथ लड़ नहीं सकते हैं. और न ही उनको कुछ बोल सकते हैं. हमने झारखंड के मुख्य सचिव से मुलाकात भी की थी. उन्होंने कहा था कि एक लेटर दे दीजिए कि आप दूसरे राज्य से आए हैं. हमने रांची में कोरोना का टेस्ट भी करवाया था, जो निगेटव आया था. मेरे साथ 4 लोग थे उनका भी रिपोर्ट निगेटिव आया था. हम रांची में सड़क के किनारे नहीं न सो जाते. हमको तो कहीं आशियाना चाहिए था. सो होटल ले लिए. झारखंड सरकार को चाहिए था कि हमें होटल उपलब्ध करवाती. हमने झारखंड से पहले मांग भी की थी कि गेस्ट हाउस दिया जाए. ये झारखंड सरकार की गलती है. झारखंड सरकार पर केस होना चाहिए.  

Find Us on Facebook

Trending News