नीतीश को ‘शिखंडी’ कहना तेजस्वी को भी गुजरा नागवार, राजद MLA सुधाकर को दे दी सख्त चेतवानी ...

नीतीश को ‘शिखंडी’ कहना तेजस्वी को भी गुजरा नागवार, राजद MLA सुधाकर को दे दी सख्त चेतवानी ...

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए ‘शिखंडी’ जैसा अपमानजनक शब्द प्रयोग करने वाले पूर्व मंत्री और राजद विधायक सुधाकर सिंह पर राजद कार्रवाई कर सकता है. बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने मंगलवार को इसके संकेत दिए. उन्होंने कहा कि जो लोग इस तरह के बयान दे रहे हैं वह भाजपा की नीतियों का ही समर्थन कर रहे हैं. 

तेजस्वी ने सुधाकर सिंह के दिए बयान पर कहा महागठबंधन बना ही भाजपा के खिलाफ है. ऐसे में अगर कोई अगर इस तरीके का बयान देता है तो वह भाजपा के नीतियों का समर्थन करता है. जब महागठबंधन की सरकार बनी थी उस वक्त यह तय हो गया था कि महागठबंधन पर लालू यादव यादव ही बात कहेंगे. लेकिन कोई अगर इस तरीके से करता है तो वह भाजपा की नीतियों का समर्थन करता है.

उन्होंने कहा कि लालू यादव बीमार है लेकिन उस अवस्था में भी उनको इस बात की जानकारी दी जा चुकी है. उन्होंने सुधाकर का नाम लिए बिना कहा कि ऐसी टिप्पणियों को करने का किसी को अधिकार नहीं है. महागठबंधन पर बोलने के लिए जो अधिकृत लोग हैं वही बोल सकते हैं. इसे लेकर जो लोग भी बोल रहे हैं, एक प्रकर से वे भाजपा की नीतियों का समर्थन कर रहे हैं. सुधाकर पर उनके बयान के लिए क्या कार्रवाई होगी इसे लेकर उन्होंने फ़िलहाल कुछ नहीं कहा है. 

दरअसल, सुधाकर सिंह ने न्यूज़4नेशन से बात करते हुए कहा था कि नीतीश कुमार तो सिर्फ दो महीने के मुख्यमंत्री बने थे. उन्होंने नीतीश को तेजस्वी को छल करने वाला करार देते हुए यहां तक कहा दिया कि नीतीश कुमार शिखंडी हैं. उनके इस बयान के बाद जहाँ जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने कड़ी आपत्ति जताई वहीं रजद के शिवानंद तिवारी और हम के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने भी आपत्ति जताई. इसे लेकर बढ़ते रार के बीच सीएम नीतीश ने कहा कि सुधाकर के बयान पर उनके दल राजद को देखना चाहिए. अब तेजस्वी ने चुप्पी तोड़ते हुए ये बातें कही हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News