एसपी आवास के सामने के मकान पर जबरन करने पहुंच गए तेजस्वी यादव के मामा, फेसबुक पर लालू परिवार के साथ कई तस्वीरें मौजूद

एसपी आवास के सामने के मकान पर जबरन करने पहुंच गए तेजस्वी यादव के मामा, फेसबुक पर लालू परिवार के साथ कई तस्वीरें मौजूद

GOPALGANJ : एक वक्त था, जब लालू राज में उनके सालों ने पूरे बिहार में अपना दबदबा बना कर रखा था। धीरे-धीरे उनका वर्चस्व खत्म हो गया। लेकिन अब एक बार फिर लालू प्रसाद के साले ने एक मकान पर जबरन कब्जा करने की कोशिश की है। वह भी एसपी आवास के ठीक सामने बने मकान पर। हालांकि मकान मालिक की शिकायत पर पुलिस ने लालू प्रसाद के साले को जेल में डाल दिया है। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार व्यक्ति क्षेत्र का एक बड़ा भू-माफिया है।   जिसने खुद को रिश्ते में लालू प्रसाद का साला और तेजस्वी यादव का मामा बताया है। बताया गया गंग दयाल यादव नाम के इस भू-माफिया का मुख्य काम लोगों की जमी पर जबरन कब्जा करना था। यहां तक कि एक मामले में सुप्रीम कोर्ट से उसकी अग्रिम जमानत याचिका भी खारिज हो चुकी थी। हद तो तब हो गई, जब लालू परिवार के नाम का सहारा लेकर वह एसपी आवास के सामने बने मकान पर कब्जा करने के लिए पहुंच गया। जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

बताया गया कि एसपी आवास के सामने स्व.रामाशंकर प्रसाद के मकान पर हथियार लिये गंग दयाल यादव अपने गुर्गों के साथ पहुंच गया. हथियार लहराते हुए महिला मीरा देवी और अन्य किरायादारों को बेरहमी से पीटा. सरेआम लूटपाट की. इससे शहर के लोग दहशत में आ गये. कई लोगों ने अधिकारियों को फोन कर इसकी जानकारी दी। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस एक्शन में आ गई। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए गंग दयाल यादव और दीपक कुमार को गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को पुलिस ने कांड दर्ज कर दोनों को जेल भेज दिया।

सुप्रीम कोर्ट ने पटना होईकोर्ट के फैसले को सही माना

जिले के नगर थाना के बंजारी रोड के रहने वाले गंग दयाल यादव पर एक दर्जन से अधिक फर्जीवाड़े के मामले दर्ज हैं. बता दें कि नगर थाना में कांड संख्या-649/2018 में सिविल कोर्ट से जमानत अर्जी खारिज होने के बाद गंग दयाल यादव ने पटना हाइकोर्ट में जमानत की अर्जी दी थी। जहां 19 मार्च 2019 को हाइकोर्ट ने जमानत देने से इन्कार कर अर्जी को खारिज कर दिया था। इसके बाद वे सुप्रीम कोर्ट गया, जहां आठ मई 2019 को यह कहते हुए जमानत देने से इंकार कर दिया था कि पटना उच्च न्यायालय का आदेश सही है और इस आदेश में वह कोई बदलाव नहीं करेगा।

पूरी जानकारी जुटा रही पुलिस

गंग दयाल यादव के खिलाफ नगर थाना में कांड संख्या-649/2018 दर्ज कराते हुए पुरानी चौक के रहने वाले सत्यपाल आर्य ने आरोप लगाया कि उनके अधिवक्ता नगर स्थित जमीन 13 कट्ठा 14 धुर का फर्जी कागजात तैयार किया. इस मामले नगर थाना में कांड दर्ज है. वहीं, इस मामले को लेकर एसपी आनंद कुमार ने बताया कि अभी तो अवकाश पर हैं, गंग दयाल यादव के खिलाफ जितने मामले दर्ज हैं. पूरी जानकारी जुटाई जा रही. किसी केस में वांटेड होगा, तो उसमें भी रिमांड पर लिया जायेगा. कानून अपने हिसाब से कार्रवाई कर रही है. पुलिस कप्तान आनंद कुमार के सख्ती के बाद भू-माफिया पर पुलिस ने शिकंजा कस दिया है. 

लालू परिवार के साथ कई तस्वीरें

बता दें कि गिरफ्तार गंगदयाल यादव खुद को तेजस्वी यादव का मामा और पूर्व सीएम राबडी देवी का भाई बताता है. उसकी कई तस्वीरें लालू फैमिली के साथ सोशल मीडिया पर है। अब पुलिस इसकी जांच में जुटी है।


Find Us on Facebook

Trending News