बार-बालाओं के डांस कार्यक्रम को लेकर पुलिस की कार्रवाई का भी असर नहीं, लौटते ही प्रोग्राम फिर हो गया शुरू

बार-बालाओं के डांस कार्यक्रम को लेकर पुलिस की कार्रवाई का भी असर नहीं, लौटते ही प्रोग्राम फिर हो गया शुरू

HAJIPUR : हाजीपुर में पुलिस को नवनिर्वाचित मुखिया कितना गंभीरता से लेते हैं। इसका बड़ा उदाहरण तब देखने को मिला जब एक गांव में आयोजित बार-बालाओं के कार्यक्रम को रोकने के लिए पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने कार्यक्रम पर रोक भी लगा दी। लेकिन जैसे ही इस कार्यक्रम को बंद करवाकर पुलिस वापस लौटी, वहां कार्यक्रम फिर से शुरू हो गया. जो पूरी रात चला। गांववालों ने पूरी रात अश्लील गीतों पर ठूमके लगाए।

मामला  वैशाली के सदर अनुमंडल अंतर्गत भगवानपुर की राजाराम किरतपुर पंचायत से जुड़ा है। जहां कोरोना गाइडलाइंस की तमाम हिदायतो के बावजूद पंचायत चुनाव में मुखिया उम्मीदवार की जीत के बाद फूहर और अश्लील डांस का आयोजन किया गया। हद तो तब हो गई जब सूचना मिलने पर पुलिस के द्वारा आर्केस्ट्रा कार्यक्रम को बंद करा दिया गया। लेकिन जैसे ही पुलिस वहां से वापस लौटी वैसे ही दोबारा आर्केस्ट्रा कार्यक्रम शुरू हो गया और रात भर लोग बेखौफ होकर नर्तकीओ का अश्लील और फूहड़ डांस का आनंद उठाते रहे। इस दौरान किसी को भी इसका भी नहीं था कि कोरोना महामारी का सिलसिला खत्म नहीं होता है बल्कि लोग बेखौफ होकर आर्केस्ट्रा कार्यक्रम का आनंद लेते नजर आए।

 बताया जाता है कि राजाराम किरतपुर पंचायत में रूना देवी दोबारा मुखिया निर्वाचित  हुई है और उन्हीं के जीत के जश्न में उनके पुत्र मोहन कुमार के द्वारा ऑर्केस्ट्रा कार्यक्रम का आयोजन किया गया जहां कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ती नजर आएगी

Find Us on Facebook

Trending News