एक घंटे की बारिश में पानी-पानी हुई राजधानी, खुले मेनहोल दे रहे हादसों को न्योता, राजू दानवीर ने बताई सिटी की स्मार्टनेस

एक घंटे की बारिश में पानी-पानी हुई राजधानी, खुले मेनहोल दे रहे हादसों को न्योता, राजू दानवीर ने बताई सिटी की स्मार्टनेस

PATNA: मौसम विभाग ने रविवार को पटना सहित कुछ जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया था। जिसके बाद से ही राजधानी पटना में झमाझम बारिश हुई। लगभग डेढ़ घंटे तक हुई बारिश ने राजधानी को खूब भिगोया। बारिश के जाते ही पटना के ज्यादातर इलाकों की हालत नारकीय हो गई। जगह-जगह जल जमाव और जलभराव हो गया। यहां तक की शहर के पॉश इलाके, जहां मंत्री रहते हैं और बिहार विधानसभा, वहां भी पानी लग गया। डिप्टी सीएम रेणु देवी को तो पानी के बीच ही किसी तरह कार्यक्रम के लिए जाना पड़ा। जलजमाव सहित जनता को होने वाली समस्याओं पर जन अधिकार युवा परिषद के प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने मोर्चा खोला है।

जन अधिकार युवा परिषद के प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने कहा कि विकास की हालत ऐसी, कि थोड़ी सी बारिश में राज्य की राजधानी पटना पानी - पानी हो गयी। नीतीश कुमार की स्मार्ट सिटी का हाल बेहाल है। गंदगी के इंडेक्स में पटना अव्वल है और बारिश में पटना में जलजमाव की हालत सरकार के तमाम अखबारी वाहवाही की पोल खोलती है। बारिश का समय आते ही शहर के लोग जलजमाव को लेकर आशंकित हैं और उनकी कामना यही है कि उनके सेवक पप्पू यादव जी बाहर आएं। जिस तरह से उन्होंने जलजमाव में पटना के लोगों की सेवा की थी वो कोई नहीं कर सकता। उनके ही आदर्शों पर चल रहे हैं और हमारे साथी अभी भी जल निकासी और खुले मेनहोल की जांच कर रहे हैं, ताकि किसी को परेशानी न हो। 

दो दिन पहले ही पता चला है कि पटना में 6 हजार चेम्बर और मेनहोल खुले हैं। उनमें ढक्कन ही नहीं है। ऐसे में हम कहना चाहते हैं कि पेपर में छपास से समस्या का समाधान नहीं होता, न ही विकास होता है। उसके लिए जमीन पर उतर कर काम करना होता है। हमारे साथी इस जलजमाव के बीच जनता की सेवा के लिए निकल गए हैं औऱ गड्ढों और मेनहोल की जांच कर रहे हैं, जिससे किसी तरह की अनहोनी ना हो।

Find Us on Facebook

Trending News