मोतिहारी सदर अस्पताल का हाल ! बिजली नहीं रहने पर कई घंटे नहीं कटे पुर्जे, कतार में खड़े परेशान रहे मरीज, सीएस ने कहा-होगी कार्रवाई

मोतिहारी सदर अस्पताल का हाल ! बिजली नहीं रहने पर कई घंटे नहीं कटे पुर्जे, कतार में खड़े परेशान रहे मरीज, सीएस ने कहा-होगी कार्रवाई

MOTIHARI : सरकार बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था का लाख दावा कर ले। लेकिन जमीनी हकीकत कुछ अलग ही बया कर रही है। आम लोगो को बेहतर स्वस्थ्य सुबिधा देने के लिए भले ही बड़े बड़े बैनर पोस्टर लगा दिया गया। करोड़ो के मशीन लग गए। लेकिन अस्पताल प्रबंधन की व्यवस्था में सुधार नही होने से मरीज को भटकने की मजबूरी ही है। मोतिहारी सदर अस्पताल प्रबंधन अपने व्यवस्था को लेकर हमेशा से सुर्खियों में रहा है। 


ताजा मामला यह है कि बिजली कटते ही मरीज का पुर्जा कटना बंद हो जाता है। जिससे गांव देहात से आये मरीज डॉक्टर से अपना इलाज कराने के लिए परेशान रहते है। लेकिन अस्पताल प्रबंधन पर कोई असर नही पड़ता है। गुरुवार को फिर ओपीडी चालू होते ही बिजली कट गई। दो घंटे तक बिजली कटी रही। बिजली कटने से सुबह से ही डॉक्टर को दिखाने आये मरीज पुर्जा कटाने के लिए परेशान हो गए। लेकिन मरीज की बेबसी सुनने वाला कोई नही था। दो घंटे बाद बिजली आने के बाद ही पुर्जा कटना शुरू हुआ। मरीज के पूछने पर डाटा ऑपरेटर जेनरेटर में तेल नही होने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ रहे थे। इसी से अनुमान लगाया जा सकता है कि सदर अस्पताल का हाल इतना बेहतर है तो बाकी अनुमंडलीय व पीएचसी का हाल कितना बेहतर होगा। डीएस ने  दो घंटे बिजली नही रहने से पुर्जा  नही कटने की बात पर जेनरेटर संचालक पर कार्रवाई करने की बात कही।

हालाँकि अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के कारण दूर दराज से आये सैकड़ो मरीज बिजली कटने के कारण पुर्जा कटाने के लिए दो घंटे लाइन में खड़ा होकर इंतजार करते रहे। अस्पताल प्रबंधन जेनरेटर में तेल नही होने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ता रहा। सदर अस्पताल में तीन जेनरेटर होने के बाद भी बिजली कटते ही पुर्जा कटना बंद हो जाना बड़ी लापरवाही है। 

कतार में खड़े मरीजों ने बताया कि सुबह से ही मरीज दिखाने के लिए अस्पताल पहुचे है। लेकिन पुर्जा कटाने के लिए जब लाइन लगी, तब बिजली कट गयी। दो घंटे तक लाइन में खड़ा रहना पड़ा। फिर जब दो घंटे बाद जब बिजली आयी है तक अब पुर्जा कटना शुरू हुआ है। तब तक सैकड़ो मरीज पुर्जा कटाने के लिए लंबी कतार में खड़े रहे। पूछने पर अस्पताल कर्मी द्वारा डीजल नही होने से जेनरेटर नही चलने की बात बतायी गयी। इस मामले को लेकर सीएस अंजनी कुमार सिंह ने बताया कि बिजली नही रहने पर दो घण्टा पुर्जा नही कटना गंभीर मामला है। जांच कराकर दोषी के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News