तेजस्वी के जमानत खारिज करने की मांग पर कोर्ट के फैसले पर बिहार में दिख असर, कांग्रेस ने जताई खुशी, भाजपा ने कही यह बात

तेजस्वी के जमानत खारिज करने की मांग पर कोर्ट के फैसले पर बिहार में दिख असर, कांग्रेस ने जताई खुशी, भाजपा ने कही यह बात

PATNA :  CBI अधिकारियों को धमकाने के मामले में तेजस्वी यादव की जमानत रद्द करने की मांग को खारिज करने के कोर्ट के के फैसले के बाद बिहार में अलग अलग पार्टियों से प्रतिक्रिया सामने आ गई है। जिसमें राजद और कांग्रेस ने कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। वहीं दूसरी तरफ भाजपा ने कहा है कि अब उम्मीद है कि जांच एजेसिंयों के खिलाफ राजद के नेता अपनी जुबान को कंट्रोल में रखकर बात करेंगे।

कोर्ट के फैसले के बाद तेजस्वी के बड़े भाई तेज प्रताप यादव ने कहा कि 

हमलोग काम करनेवाले लोग हैं, भगवान भी देख रहा है कि कौन सही है गलत है। भगवान की बहुत बड़ी कृपा है, साथ ही बिहार की जनता का आशीर्वाद है, राहत मिला है, बहुत अच्छी बात है। इस दौरान तेज प्रताप ने कहा विरोधी तो शुरू से लगी हुई है। लेकिन हम काम कर रहे हैं। तेजस्वी जो जिम्मेदारी लिए हैं. उसे पूर्ण तरीके से अपने कर्तव्यों को पालन करेंगे।

कांग्रेस ने कहा यह तो होना ही था

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता असित नाथ तिवारी ने भी कोर्ट के आदेश का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि यह शुरू से ही लग रहा था कि सीबीआई यह काम पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। आज कोर्ट में हुई सुनवाई ने यह साबित कर दिया कि केंद्र सरकार कैसे जांच एजेसिंयों को इस्तेमाल करती है।

विजय सिन्हा ने कहा

वहीं नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा ने सांवैधानिक पद पर बैठे लोगों को अपनी जुबान पर किस तरह बोलना चाहिए, यह कोर्ट के आदेश से एक बार फिर स्पष्ट हो गया है। किसी जांच एजेंसी के लिए किस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना चाहिए, यही बात आज कोर्ट ने कही है। इस दौरान सांवैधानिक संस्थाओं के दुरुपयोग करने के राजद के आरोपों पर विजय सिन्हा ने कहा जब फैसले उनके हक में आता है, तो सांवैधानिक रूप से सही हो जाता है और जब उनके विरोध में होता है, तो वही गलत हो जाता है।


Find Us on Facebook

Trending News