उदयपुर में युवक की हत्या की आंच बिहार भी पहुंची : तेजस्वी, मांझी, संजय जायसवाल ने एक सुर में कहा - दोषियों को मिले सख्त सजा

उदयपुर में युवक की हत्या की आंच बिहार भी पहुंची : तेजस्वी, मांझी, संजय जायसवाल ने एक सुर में कहा - दोषियों को मिले सख्त सजा

PATNA : राजस्थान के उदयपुर में नुपुर शर्मा के समर्थक की गला रेतकर हत्या करने की घटना से उठे बवाल ने अब दूसरे राज्यों में भी अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। जिसमें बिहार भी शामिल है। यहां इस हत्या को लेकर सत्ता पक्ष के साथ विपक्ष के नेताओं ने भी एक साथ घटना की निंदा की है और दोषियों को सख्त सजा देने की मांग की है। 

 जिस तरह से राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार को दिनदहाड़े एक युवक की निर्मम हत्या (Udaipur Murder Case) कर दी गई और बाद में हत्यारों ने सोशल मीडिया पर आकर इस पूरी घटना का वीडियो पोस्ट किया, उसके बाद अब उन्हें बीच चौराहे फांसी पर लटकाने की मांग की जा रही है।  यह मांग बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने की है। जीतन राम मांझी ने ट्वीट कर लिखा, ''धर्म के ऐसे तथाकथित रक्षकों को स्पीडी ट्रायल चला बीच चौराहे पर फांसी दी जाए, ताकि धर्म के आड़ में कोई दुबारा ऐसी हरकत ना कर पाए.''

वहीं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि दरिंदो को तुरंत सजा मिले,  उन्होंने अपने ट्विट में लिखा है कि ''उदयपुर की दरिंदगी से मन व्यथित है. धार्मिक कट्टरपंथ किसी भी समुदाय को ना सिर्फ अंधा बनाता है बल्कि उनके सोचने समझने की शक्ति छीन लेता है और एक कट्टरपंथ दूसरे कट्टरपंथ को पोषित करता है. दरिंदो को तुरंत सजा मिले. आइए, हम सब मिलकर बापू-बाबा साहेब का समतावादी सहिष्णु देश फिर से बनायें.''

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा अक्षम्य अपराध

बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा कि अक्षम्य अपराध करार दिया है। उन्होंने लिखा है कि , ''उदयपुर की घटना किसी भी स्वस्थ समाज में स्वीकार्य नहीं है. मजहबी धर्मान्धता समाज के लिए बेहद खतरनाक है. एक गरीब दर्जी कन्हैया लाल जी का जिहादी तत्व द्वारा हत्या कांग्रेस व विपक्षी दलों के दशकों के छद्म सेक्युलरिज्म व उनकी सरकारों में बढ़ते मनोबल का दूषित परिणाम है. अक्षम्य अपराध!''

राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार को दिनदहाड़े एक दर्जी का काम करनेवाले युवक की निर्मम हत्या (Udaipur Murder Case) कर दी गई. शहर के बीचोंबीच मालदास स्ट्रीट इलाके में वारदात को अंजाम दिया गया. बताया जा रहा है कि युवक ने बीजेपी की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पक्ष में एक पोस्ट डाली थी. इसके बाद समुदाय विशेष के दो युवक उसे लगातार धमकी दे रहे थे। युवक ने पिछले दिनों से अपनी दुकान भी नहीं खोली थी, लेकिन मंगलवार को जैसे उसने दुकान खोली तो दो लोग कपड़े सिलाने के नाम पर आए. इस दौरान कपड़े का नाप लेते वक्त युवकों ने उसके गले पर धारदार हथियार से हमला करते हुए निर्मम हत्या कर दी और बाद में उस हत्या का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। साथ ही दोनों हत्यारों ने नरेंद्र मोदी और नुपुर शर्मा का भी सिर कलम करने की धमकी दी। हालांकि इस घटना के बाद राजस्थान में उठे बवाल के बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

आज पूरे राजस्थान में इस घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। कई हिन्दू संगठन सड़क पर उतरकर इस घटना में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं। 

Find Us on Facebook

Trending News