दारोगा ने युवती को भगाकर थाने में रचाई शादी, दूसरी तरफ CM नीतीश के मंच से DGP दे रहे थे लड़कियों को घर से नहीं भागने की नसीहत

दारोगा ने युवती को भगाकर थाने में रचाई शादी, दूसरी तरफ  CM नीतीश के मंच से DGP दे रहे थे लड़कियों को घर से नहीं भागने की नसीहत

SIWAN :  समस्तीपुर में समाज सुधार अभियान के मंच से बिहार के डीजीपी एसके सिंघल बिहार की लड़कियों को प्यार के कारण घर से नहीं भागने की नसीहत दे रहे थे। ठीक उसी समय सीवान जिले में उनका ही एक दारोगा एक युवती को भगाकर ले आया और अपने थाने में बने मंदिर में उसकी मांग भरकर शादी रचा ली। ऐसे में डीजीपी की सोच से खुद उनके पुलिसवाले ही इत्तेफाक नहीं रखते हैं, यह कहना  गलत नहीं होगा।

मामला सिवान जिले के महाराजगंज थाने से जुड़ा है। जहाँ थाने के अंदर प्रशिक्षु दारोगा व उसकी प्रेमिका की शादी हुई। बताया गया कि गया जिला निवासी व सिवान जिले के जीबी नगर थाना में पदस्थापित एसआई राहुल भारती गया जिले के कोच थाने के शंकर बिगहा गोराहन निवासी जितेन्द्र सिंह की पुत्री तब्बू के साथ कई साल से रिलेशनशिप में था। जब लड़की को पाता चला कि उसके परिजन उसकी शादी कहीं दुसरी जगह कराना चाहते है तो इस बात की जानकारी होते ही लड़की गया से सिवान अपने प्रेमी के पास पहुंची व प्रेमी को सारी बातें बताई। 

थाने में रचाई गई शादी

प्रशिक्षु दारोगा अपनी प्रेमिका संग महाराजगंज थाना पहुंचा। जहां थाना परिसर स्थित मन्दिर में वैदिक मन्त्रोच्चारण के साथ शादी कर ली। शादी के बाद नव दंपत्ति  को महाराजगंज थाने के सभी स्टाफ ने आशीर्वाद दिया।

लड़की के पिता ने कहा - पुलिसवाले ही लड़की भगाने लगे 

प्रशिक्षु एसआई  के साथ तब्बू के विवाह की सूचना मिलते ही उसके परिजन जीबी नगर थाना पहुंच कर इस शादी का विरोध किया। परिजनों ने थानेदार व एसपी से शिकायत की। तब्बू के पिता ने कहा की पुलिस ही जब लड़की की बहला फुसला कर शादी करने लगेगी तो किसी भी पिता का पुलिस से भरोसा उठ जाएगा। परिजन अपनी बेटी से मिलने की जिद्द पर अड़े हें।



Find Us on Facebook

Trending News