खेत गए किसान भाइयों की हत्या कर शव लेकर गए हत्यारे, घटना के छह दिन बाद भी नहीं मिली लाश तो कुश का पुतला बनाकर किया अंतिम संस्कार

खेत गए किसान भाइयों की हत्या कर शव लेकर गए हत्यारे, घटना के छह दिन बाद भी नहीं मिली लाश तो कुश का पुतला बनाकर किया अंतिम संस्कार

KATIHAR : लगभग एक सप्ताह पहले खेत से लौटने के दौरान गोलियों के शिकार किसान भाइयों के बारे में अब तक कोई सुराग नही मिल सका है। ऐसे में अब परिजनों ने भी यह मान लिया है कि दोनों की मौत हो गई है। जिसके बाद दोनों किसान भाइयों के कुश का पुतला बनाकर अंतिम संस्कार कर दिया गया है। 

मामला बीते 18 सितंबर की है। जब मनिहारी थाना क्षेत्र के भागवत पुर काशी चौक मिर्जापुर में किसान भाई महेश यादव (रिटायर्ड फौजी) एवं सुनील यादव कलाई(उरद) फसल बोने के लिए गए थे, इस दौरान पहले से घात लगाए बैठे अपराधियों ने दोनों को गोली मार दी और बाद में उन्हें घसीटते हुए अपने साथ ले गए। गोली चलाने के साथ-साथ बुरी तरह पिटाई करते हुए दोनों को अपने साथ लेकर चले गये। जिसके बाद से उनकी तलाश की जा रही थी, लेकिन छह दिन बीत जाने के बाद अब परिजनों ने भी यह मान लिया है कि संभवतः गोली लगने के कारण दोनों की मौत हो चुकी है। 

बिना लाश किया गया अंतिम संस्कार

दोनों किसान भाइयों की लाश नहीं मिलने के कारण परिजनों ने उन्हें मरा हुआ मानकर अंतिम संस्कार करने का फैसला किया और गंगा घाट पहुंचकर कुश के पुतला बनाकर दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया। हालांकि इसके बाद भी परिजनों का गुस्सा कम नहीं हुआ है। इस मामले में पुलिस को अब तक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है इसी को लेकर ओरिजन आक्रोशित है। परिजनों ने कहा कि अब तक किसी भी हाल में पुलिस उन लोगों को तो बरामद नहीं कर पाई है इसीलिए परिजन उन्हें मृत मानकर गंगा घाट पर क्रिया कर्म तो कर दिए हैं मगर पुलिस कम से कम आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर सजा दे।

Find Us on Facebook

Trending News