पुलिस की नजरों में फरार शराब तस्कर अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए कर रहा चुनाव प्रचार, गुपचुप पहुंच कर करवा लिया नॉमिनेशन

पुलिस की नजरों में फरार शराब तस्कर अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए कर रहा चुनाव प्रचार, गुपचुप पहुंच कर करवा लिया नॉमिनेशन

NAWADA : नवादा जिले के रजौली पुलिस पुलिस को भनक तक नहीं लगा और नॉमिनेशन हो गया। 20 सितंबर को फरार आरोपित ने रजौली प्रखंड के धमनी पंचायत की मुखिया पद के लिए प्रखंड कार्यालय पहुंच कर नामांकन भी करा लिया। बाद में उसने चुनाव चिन्ह भी प्राप्त कर लिया। अब क्षेत्र में प्रचार कर रहा है। लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। बाद में पुलिस को चुनाव प्रचार करने की जानकारी मिली तब से पुलिस इस मुखिया प्रत्‍याशी को सरगर्मी से खोज रही है। इसकी तलाश में पुलिस ने छापेमारी भी की, मगर वह हर बार पुलिस को चकमा दे जाता है।

मिली जानकारी के अनुसार मुखिया पद के लिए नामांकन करा प्रचार में जुटे बालमुकुंद कुमार पर शराब मामले में नामजद प्राथमिकी दर्ज है। बीते तीन माह पूर्व पुलिस ने एक स्कार्पियो से भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब बरामद की थी। उसी मामले में बालमुकुंद को नामजद आरोपित किया गया था। जिसके बाद से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। लेकिन कामयाबी नहीं मिल सकी। वहीं नामजद आरोपित ने पुलिस को खुली चुनौती देते हुए 20 सितंबर को प्रखंड कार्यालय पहुंच कर मुखिया पद के लिए नामांकन कराया और चोरी चुपके आसानी से वापस लौट गया।

ग्रामीण सूत्रों के मुताबिक, रजौली थाने की पुलिस को सूचना मिली कि  सुबह वह करनपुर गांव में चुनाव प्रचार कर रहा है। जिसके बाद उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की गई। लेकिन आरोपित फरार हो गया। इस बीच पुलिस ने प्रचार गाड़ी को जब्त कर थाना लेते गई। इस मामले में रजौली थानाध्यक्ष दरबारी चौधरी ने बताया कि सत्यापन किया जा रहा है। वहीं नामजद मुखिया प्रत्याशी बालमुकुंद से संपर्क कर पक्ष लेने का प्रयास किया गया। लेकिन मोबाइल स्वीच ऑफ मिला। आरोपित के भाई ने बताया कि जमानत के लिए कोर्ट में आवेदन दिया गया है। लेकिन पुलिस छापामारी करे जल्द ही गिरफ्तारी होगी।

एक तरफ आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी का दावा किया जाता है, वहीं दूसरी ओर फरार आरोपित आंखों के सामने से निकल जाता है। फिलहाल, आरोपित अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए क्षेत्र में जनसम्पर्क अभियान चला रहा है।


Find Us on Facebook

Trending News