15 लाख की फिरौती के लिए बदमाशों ने युवक का किया अपहरण, 24 घंटे के भीतर पुलिस ने किया बरामद, दो गिरफ्तार

15 लाख की फिरौती के लिए बदमाशों ने युवक का किया अपहरण, 24 घंटे के भीतर पुलिस ने किया बरामद, दो गिरफ्तार

NALANDA : दीपनगर थाना की पुलिस ने 24 घंटे के अंदर फिरौती के लिए अपहरण कांड का सफल उद्भेदन कर लिया है। अपहरणकर्ताओं के चंगुल से अपहृत को सकुशल बरामद कर लिया गया है। सदर डीएसपी डॉ शिब्ली नोमानी ने बताया कि घटना 04 जनवरी की है। इस मामले में दीपनगर थाना क्षेत्र के जोरारपुर गांव निवासी सुमन कुमारी ने 5 जनवरी को आवेदन दिया था। जिसमें यह बताया गया कि उनके पति 4 जनवरी को अपने मोटरसाइकिल से बिहारशरीफ यह बोलकर निकले की सदर अस्पताल जा रहे है। परंतु वह वापस नहीं लौटे। देर शाम उनके मोबाइल पर अज्ञात नंबर से फोन आया और कहा गया कि तुम्हारा पति मेरे कब्जे में है। 15 लाख रूपये लेकर मोरा तालाब के पास आओ नहीं तो तुम्हारे पति की हत्या कर दी जाएगी। जिसके बाद आवेदिका सुमन कुमारी के द्वारा 5 जनवरी को थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई। पुलिस अधीक्षक नालंदा ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए विशेष टीम का गठन किया। जिसमें अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई। जिसमें थानाध्यक्ष दीपनगर, बिहार एवं जिला आसूचना इकाई के पुलिसकर्मी शामिल थे। पुलिस टीम ने अनुसंधान एवं आसूचना के आधार पर लगातार छापामारी करते हुए अपहृत को बिहार थाना क्षेत्र के किराए के मकान से सकुशल बरामद कर लिया। 

कहाँ से हुई बरामदगी

बिहार थाना क्षेत्र के बैगनाबाद स्थित शंकर कुमार के मकान से अपहृत वाल्मीकि कुमार को सकुशल बरामद कर लिया गया। वहीं किराए पर रह रहे चंडी थाना क्षेत्र के कोरनावां गांव निवासी प्रमोद सिंह का पुत्र सुमित कुमार एवं चेरो ओपी क्षेत्र के तीरा गांव निवासी विजय कुमार वर्मा का पुत्र नीतीश कुमार उर्फ रॉकी सोनार को मौका ए वारदात से गिरफ्तार कर लिया गया। सुमित ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहा है और नीतीश चालक का काम करता है। 

क्या क्या हुई बरामदगी

अपराधियों के पास से फिरौती की मांग करने वाले मोबाइल सहित कुल 6 मोबाइल सेट को बरामद किया गया है। डीएसपी ने बताया कि चंगुल में रखने के दौरान अपराधकर्मियों ने अपहृत के साथ काफी मारपीट भी किया था। अगर पुलिस समय पर कार्रवाई नहीं करती तो अपहृत की जान भी जा सकती थी। अपहृत मूल रूप से खेती बाड़ी का काम करता है।

छापेमारी टीम में कौन कौन हुआ शामिल

छापेमारी में सदर डीएसपी डॉ शिब्ली नोमानी, थानाध्यक्ष दीपनगर मो. मुस्ताक, थानाध्यक्ष बिहार संतोष कुमार, डीआईयू शाखा से चंदन कुमार, डीआईयू एवं दीपनगर थाना की पुलिस शामिल थी।

नालंदा से राज की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News