वार्ड सदस्य के घर चल रही थी जीत की ‘पार्टी’, पुलिस ने मारा छापा तो हमलावर हुआ परिवार, 8 पुलिसकर्मी बुरी तरह घायल

वार्ड सदस्य के घर चल रही थी जीत की ‘पार्टी’, पुलिस ने मारा छापा तो हमलावर हुआ परिवार, 8 पुलिसकर्मी बुरी तरह घायल

MUZAFFARPUR: इन दिनों शराब बेचने और पीने का विरोध करना पुलिस पर ही भारी पड़ता नजर आ रहा है। हाल के दिनों में कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनमें उन्मादी भीड़ ने पुलिस टीम पर ही कातिलाना हमला कर दिया हो। इसी कड़ी में खबर आई है मुजफ्फरपुर से, जहां शराब पार्टी को रोकना पुलिस को महंगा पड़ गया, और उनकी ही जान पर बन आई।

घटना जिले के सकरा थाना क्षेत्र अंतर्गत रघुनाथपुर डोनमा पंचायत की है। जहां रविवार को जिले में हुए मतगणना के बाद जीते हुए वार्ड सदस्य अपने घर पर ही समर्थकों के साथ शराब पार्टी कर रहा था। जीत की खुशी में चल रही शराब पार्टी की सूचना मिलते ही जब पुलिस टीम वहां छापेमारी करने पहुंची, तो परिवार वाले आक्रोशित हो गए। मिली जानकारी के अनुसार प्रत्याशियों के समर्थक एवं उनके परिवार वालों ने पुलिस पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। साथ ही साथ पुलिस को बंधक बनाकर धरादार हथियार से वार किया। जिसमें थानेदार समेत आठ पुलिसकर्मी बुरी तरह घायल हो गए हैं। घटना की सूचना मिलते ही शहर से गये वरीय अधिकारियों ने बंधक बनी पुलिस को छुड़वाया और घायलों को तत्काल अस्पताल भेजा।

वरीय अधिकारियों ने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए 7 हमलावरों को मौके से गिरफ्तार किया। वहीं दो ग्रामीण भी इस घटना में जख्मी बताए जा रहे हैं। अब इतना तो सभी को पता है कि बिहार में शराबबंदी है, मगर वह कहां तक है, इसकी जानकारी भी हरेक व्यक्ति को है। सीधी तस्वीरें मुजफ्फरपुर से हैं, जहां सुशासन के राज में शराबबंदी की पोल अब जनप्रतिनिधि खोल रहे हैं। मामले के संदर्भ में पुलिस ने बताया कि अबतक सात हमलावरों को गिरफ्तार किया गया है और आगे की कार्रवाई जारी है।

Find Us on Facebook

Trending News