बेकार पड़ी सरकारी जमीन का ग्रामीणों ने किया सदुपयोग, आपसी सहयोग से कर दिया पोखरे का निर्माण

बेकार पड़ी सरकारी जमीन का ग्रामीणों ने किया सदुपयोग, आपसी सहयोग से कर दिया पोखरे का निर्माण

BHAGALPUR : अगर खुद पर विश्वास हो तो सरकार की पहल का भी पहल का भी इंतजार करने की आवश्यकता नहीं है। कुछ ऐसा ही काम  भागलपुर सुलतानगंज प्रखंड के मसदी मौजा के ग्रामीणों ने किया है। यहां ग्रामीणों ने पानी की समस्या को हल करने के लिए खुद ही आपसी  सहयोग से तालाब खोदने का काम किया है। तालाब खोदने को लेकर ग्रामीणों में भी खुशी नजर आ रही है। उनका कहना है कि इससे गांव की पानी की किल्लत को काफी हद तक कम किया जा सकता है।

वहीं ग्रामीणों ने बताया कि बिहार सरकार का जमीन वर्षों से अधूरा पडा था। जो ग्रामीणों के सहयोग से पूर्व प्रमुख प्रमोद मंडल की अगुवाई में पोखर कि खनाई कि गई। जिससे गांव के सैकड़ों किसानों को लाभ मिल सके। गांव के पुर्व उपमुखिया मो. मतिन ने बताया कि ग्रामीणों के सहयोग से पोखर कि खनाई की गई हैं। इस पोखर कि खनाई से गांव के सैकड़ों किसान लाभान्वित होगे।

बेकार पड़ी थी सात कट्ठा जमीन

वहीं पूर्व प्रमुख प्रमोद मंडल ने कहा कि मसदी मौजा मे बिहार सरकार का जमीन 7 कट्टा के लगभग हैं।जो ग्रामीणों के सहयोग से पोखर कि खनाई कि गई हैं। जिससे गांव के सैकड़ों किसान व  पशुओं को लाभ मिलेगा। इसके लिए सरकार के द्वारा जलजीवन हरियाली का भी तत्वावधान हैं।लेकिन सरकार के द्वारा कोई जलजीवन हरयाली का लाभ नहीं मिलने पर ग्रामीणों के सहयोग से यह कार्य करया जा रहा हैं।

Find Us on Facebook

Trending News