वाल्मिकीनगर में कस्टम ऑफिस शुरू होने पर मची क्रेडिट लेने की होड़, माले विधायक ने कहा - भाजपा सांसद ने नहीं, दस साल पहले जदयू के पूर्व सांसद ने की थी मांग

वाल्मिकीनगर में कस्टम ऑफिस शुरू होने पर मची क्रेडिट लेने की होड़, माले विधायक ने कहा - भाजपा सांसद ने नहीं,  दस साल पहले जदयू  के पूर्व सांसद ने की थी मांग

BETIA : बेतिया के वाल्मिकीनगर में आज भारत-नेपाल सीमा पर कस्टम कार्यालय का उद्घाटन हुआ है। बताया जा रहा है कि अब इस रूट से भी भारी गाड़ियों का आवागमन कस्टम शुल्क के साथ हो सकेगा। लेकिन इस कार्यालय के शुरू होने के साथ ही अब इसके क्रेडिट लेने की होड़ मच गई है। जहां भाजपा नेता इसे स्थानीय स्थानीय राज्यसभा सांसद सतीश दुबे की मेहनत का नतीजा बता रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ माले के कार्यकर्ताओं ने कहा जिस कार्यालय को शुरू करने को लेकर भाजपा अपनी पीठ-पीठ थपथपा रही है, उसके लिए दस साल पहले ही पूर्व सांसद स्व. बैजनाथ महतो ने किया था।

आज माले के केंद्रीय समिति सदय एवं सिकटा विधायक वीरेंद्र प्रसाद गुप्ता ने भाजपा नेताओं पर नफरत,लूट,एवं झूठ तथा गोल्वर्क के दर्शन पर चलने वाली पार्टी की तीखी आलोचना करते हुए कहा है कि स्वतंत्रा आंदोलन में अंगेजो की गुलामी करने वाले पार्टी आज अमृत महोत्सव मना कर स्वतंत्रता आंदोलन के उपलब्धियों को बटोरने में लगी है।  उन्होंने कहा कि भारत नेपाल सीमा पर कस्टम कार्यालय की स्थापना हेतु स्वर्गीय महतो अपने 22-2-13 मे एक पत्र लिखा था। जिसे ही फिर से वर्तमान सांसद सुनील कुमार ने पत्र लिखकर कार्यालय के शुरू करने की मांग की थी।  वाल्मीकिनगर  के अस्मार्क पत्र एवं संयुक्त कस्टम  आयुक्त पटना के पत्रांक 8467 दिनांक 7-9-2017  के आलोक में आज भन्सार चालू हो रहा है।

क्या लिखा था 2013 में पूर्व सांसद ने

माले विधायक ने पूर्व सांसद का वह पत्र भी जारी किया है, जिसमें वाल्मिकी नगर में सीमा शुल्क कार्यालय खोलने की मांग की गई थी। 22 फरवरी 2013 को लिखे गए पत्र में पूर्व सांसद ने लिखा था कि जिस प्रकार पूर्वी चंपारण के रक्सौल एवं यूपी के महाराजगंज जिले के सोनौली में भारी वाहनों के लिए आवागमन की सुविधा बहाल की है, उसी प्रकार की सुविधा वाल्मिकीनगर में भी दी जाए। उन्होंने लिखा था कि जनता के अनुरोध एवं आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए आग्रह है कि वाल्मिकीनगर भारत नेपाल सीमा पर आयात-निर्यात सीमा शुल्क कार्यालय स्थापित किया जाए।

वहीं इसके बाद जिला प्रशासन ने भी 2018 में इस पर पहल करते हुए बगहा के एसडीएम को पत्र लिखकर वाल्मिकीनगर में 2.60 एकड़ जमीन उपलब्ध कराने के लिए कहा था,ताकि उस जगह पर कस्टम कार्यालय स्थापित किया जा सके। 

इसके बाद जुलाई 2021 में सांसद सुनील कुमार ने भी वित्त मंत्री को पत्र लिखकर यहां कार्यालय स्थापित करने की मांग की थी। जिसमें उन्होंने इलाके से होनेवाले वाहनों की अवैध आवाजाही से होनेवाले राजस्व नुकसान एवं वाल्मिकीनगर को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित किए जाने का हवाला देते हुए यहां भंसार की शुरूआत करने की मांग की थी। लेकिन भाजपा के लोग इसे भाजपा के राज्यसभा सांसद संदीप दुबे की कोशिश का नतीजा बता रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News