कोरोना से पीड़ित था यह बॉडी बिल्डर,कुछ ही दिनों में हो गया सुख कर काँटा

कोरोना से पीड़ित था यह बॉडी बिल्डर,कुछ ही दिनों में हो गया सुख कर काँटा

Desk: कोरोना वायरस किस हद तक आपके शारीर को नुकसान पहुंचा सकता  है इसकी तस्वीर में आप देख ही सकते है. 43 वर्षीय माइक शल्ट्ज पेशे से नर्स है और शौकिय बॉडी बिल्डर. कोरोना पेशेंट्स का इलाज करते करते कब उन्हें कोरोना ने अपनी चपेट में ले लिया उन्हें पता नहीं चला. मात्र 6 हफ़्तों में उन्हें कोरोना ने कुछ इस तरह तोड़ कर रख दिया की उन्हें अपना फ़ोन भी भारी लगने लगा था. माइक ने जब वहाँ मौजूद नर्स से से पूछा कि कितने दिन से यहां भर्ती हूं,तो पता चला कि 6 हफ्ते हो चुके हैं. जबकि, माइक को लग रहा था कि अभी एक ही हफ्ता हुआ है.

उन्होंने बताया की फ़ोन भी उन्हें भारी  लगने लगा था, वो इतने कमजोर हो गए थे कि वे कोई मैसेज भी टाइप नहीं कर पाते थे, क्योंकि उनकी उंगलियां कांपती थीं. माइक बताते हैं कि ये बेहद डरावना था. मुझे ऐसे लग रहा था कि मैं दुनिया का सबसे कमजोर इंसान हूं. कोरोना होने से पहले माइक का वजन करीब 87 किलोग्राम था.

जबकि कोरोना होने के बाद उनका वजन घटकर 63 किलोग्राम रह गया. वो लगभग 24 किलोग्राम वजन कम चुके थे.

माइक ने कहा कि कुल मिलाकर मैं 8 हफ्ते से अपने घर, परिवार और रिश्तेदारों से दूर हूं. अब मैं धीरे-धीरे ठीक हो रहा हूं. बहुत जल्द ठीक होकर अपने काम पर जाऊंगा.

Find Us on Facebook

Trending News