यह हैं कार चोर ऑफ द इयर : लॉकडाउन में 100 से ज्यादा कार पर किया हाथ साफ, इस खास मॉडल की गाड़ी पर रहती थी नजर

यह हैं कार चोर ऑफ द इयर : लॉकडाउन में 100 से ज्यादा कार पर किया हाथ साफ, इस खास मॉडल की गाड़ी पर रहती थी नजर

NOIDA : लॉकडाउन जहां कई लोगों के लिए परेशानी थी, वहीं कुछ लोग ऐसे भी थे, जिन्होंने इस बंदी का जमकर फायदा उठाया। नोएडा पुलिस ने एक ऐसे ही गैंग को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है, जिन्होंने लॉकडाउन के दौरान एक दो नहीं बल्कि सौ से ज्यादा कार की चोरी को अंजाम दिया। पुलिस ने बताया कि इस गैंग के सदस्यों पर इनाम भी घोषित किया था। 

इस कार्रवाई को लेकर नोएडा पुलिस ने बताया कि सेक्टर-58 पुलिस, सेक्टर-57 के पास गश्त कर रही थी तभी संदिग्ध फॉर्च्यूनर व ब्रेजा कार आती हुई दिखाई दीं। पुलिस ने जब दोनों को रुकने का इशारा किया तो ब्रेजा तेजी से निकल गई जबकि फॉच्यूर्नर डिवाइडर से टकरा गई। इसके बाद बदमाशों ने पुलिस पर गोली चला दी। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की तो दिल्ली के मुस्तफाबाद निवासी मोहम्मद अली जैदी को गोली लग गई। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। जबकि दूसरे गिरफ्तार बदमाश की पहचान दिल्ली के बटला हाउस निवासी साहिब अहमद के रूप में हुई। हालांकि इस कार्रवाई के दौरान गैंग का सरगना बंटी अपने साथियों के साथ भागने में सफल हो गया। 

सिर्फ लग्जरी कार करते थे चोरी

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार दोनों बदमाश बंटी के साथ काम करते थे। बंटी का गिरोह दिल्ली व नोएडा में सक्रिय होकर लग्जरी वाहन चुराता है। इसके बाद मुरादाबाद निवासी दूसरे वाहन चोर गिरोह के सरगना मोहम्मद आरिफ हुसैन को बेच देते थे। पुलिस ने बताया कि दोनों बदमाशों ने यह कबूल किया है लॉकडाउन में ही दिल्ली व एनसीआर से 100 से अधिक इनोवा व फॉच्यूर्नर कारें गिरोह ने चुराई है।

फॉच्यूर्नर और इनोवा को बनाते थे निशाने

पुलिस के अनुसार गिरोह के बदमाशों के निशाने पर ज्यादातर फॉच्यूर्नर और इनोवा ही रहता था। जिनके लिए वह कोडवर्ड का प्रयोग करते थे। इनमें फॉर्च्यूनर को चूरन और इनोवा को पनडुब्बी शब्द का प्रयोग किया जाता था। मास्टर चाबी को मछली और एक लाख रुपये को कट्टा कहते थे। तड़के भी ये बदमाश फॉर्च्यूनर को महाराष्ट्र बेचने ले जा रहे थे तभी नोएडा पुलिस के हत्थे चढ़ गए। 

चाचा थे यूपी के सबसे कार चोर

पुलिस ने बताया गिरोह में लखनऊ का वाहन चोर सरगना आरिफ हुसैन भी है। कुछ महीने पहले लखनऊ पुलिस ने आरिफ को 102 चोरी के वाहनों के साथ गिरफ्तार किया था। आरिफ कुख्यात वाहन चोर जेड ए खान कर भतीजा बताया जाता है। जेड ए खान प्रदेश के सबसे बड़े वाहन चोरों में गिनती होती थी।

साहिब बाइक बोट मामले में है आरोपी

पुलिस पूछताछ में पता चला है कि साहिब बाइक बोट फर्जीवाड़े के मुख्य आरोपी संजय भाटी, विजय कसाना के साथ मिलकर गर्वित इनोवेटिव प्राइवेट लिमिटेड के नाम से कंपनी खोलने में सहयोगी था। मामले में वाहन चोर साहिब के खिलाफ दादरी थाने में रिपोर्ट दर्ज है। 

Find Us on Facebook

Trending News