आज तय हो जाएगा कौन होगा अगले पांच साल तक राष्ट्रपति भवन में रहने का हकदार, थोड़ी देर में शुरु होगी वोटों की गिनती

आज तय हो जाएगा कौन होगा अगले पांच साल तक राष्ट्रपति भवन में रहने का हकदार, थोड़ी देर में शुरु होगी वोटों की गिनती

PATNA : देश की अगले राष्ट्रपति किसे चुना जाएगा। इस बात का फैसला आज हो जाएगा। आज सुबह आज सुबह 11 बजे वोटों की गिनती शुरू होगी और आज ही रिजल्ट आ जाएगा। जिसके  बाद यह तय हो जाएगा कि भारत के सबसे बड़े सरकारी आवास राष्ट्रपति भवन में अगले पांच साल तक कौन रहने का हकदार होगा। चुनाव में NDA उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष के प्रत्याशी यशवंत सिन्हा के बीच कहने को तो सीधा मुकाबला है, लेकिन द्रौपदी मुर्मु की जीत लगभग तय है। 

वोटों के आंकड़े के हिसाब से द्रौपदी मुर्मू ही अगली राष्ट्रपति होंगी, यह निश्चित है। इसी के चलते भाजपा ने देश के 1.30 लाख आदिवासी गांवों में जश्न की तैयारी कर ली है। मुर्मू की जीत को लेकर आश्वस्त भाजपा नतीजे आने के बाद दिल्ली में विजय जुलूस निकालेगी। ऐसा पहली बार होगा, जब राष्ट्रपति की जीत के बाद जुलूस निकाला जाएगा। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‌डा राजपथ तक इस जुलूस की अगुवाई करेंगे। वहीं भाषण देंगे। पहली बार आदिवासी महिला के राष्ट्रपति चुने जाने का श्रेय पीएम मोदी को देंगे। 

द्रौपदी की जीत से राजनीतिक मैसेज देने की तैयारी

द्रौपदी मुर्मू की जीत की घोषणा होते ही देशभर में जश्न शुरू हो जाएगा। द्रौपदी की जीत से बीजेपी आदिवासी समुदाय सहित पूरे देश और खासतौर पर महिलाएं में खास संदेश देना चाहती है। जिससे मुख्य धारा से कटे इस समुदाय में राजनीतिक मैसेज जाए कि प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी ही ऐसी पार्टी है जो सत्ता के लिए नहीं बल्कि देश के वंचित तबकों और वर्गों के लिए काम करते हैं। यही वजह है कि पार्टी कार्यकर्ताओं को जीत के बाद पोस्टर में द्रौपदी मुर्मू के साथ किसी और नेता की तस्वीर न लगाने के सख्त निर्देश दिए हैं। 

इसलिए मुर्मू की जीत तय मानी जा रही

भाजपा ने 21 जून को मुर्मू को उम्मीदवार बनाया था, तब एनडीए के खाते में 5 लाख 63 हजार 825 यानी 52% वोट थे। 24 विपक्षी दलों के साथ होने पर सिन्हा के साथ 4 लाख 80 हजार 748 यानी 44% वोट माने जा रहे थे। बीते 27 दिन में कई गैर एनडीए दल समर्थन में आने से मुर्मू को निर्णायक बढ़त मिल गई। सभी 10 लाख 86 हजार 431 वोट पड़ते हैं तो मुर्मू को 6.67 लाख (61%) से अधिक वोट मिलेंगे। सिन्हा के वोट घटकर 4.19 लाख रह गए। जीत के लिए 5 लाख 40 हजार 065 वोट चाहिए

Find Us on Facebook

Trending News