बिहार की सड़कों पर ओवरलोडेड बालू लेकर जाने पर परिवहन विभाग नहीं करेगी कार्रवाई, इस जिले के डीटीओ ने बताया क्या है नया नियम

बिहार की सड़कों पर ओवरलोडेड बालू लेकर जाने पर परिवहन विभाग नहीं करेगी कार्रवाई, इस जिले के डीटीओ ने बताया क्या है नया नियम

बालू घाटों को फिर से शुरू हुए अभी कुछ ही दिन हुए हैं और इसके ओवरलोडिंग का गोरखधंधा शुरू हो गया है। सबसे बड़ी बात है कि प्रशासन के नाक के नीचे यह पूरा अवैध कारोबार चलता है और किसी की इस पर नजर नहीं पड़ती है। ताजा मामला रोहतास जिले से है। जहां इन दिनों ट्रकों पर ओवरलोडिंग बालू ढोये जा रहे हैं। 

ओवरलोडिंग की तस्वीर सीसीटीवी में कैद हुई है। जिसमें आप सब देख सकते हैं किस प्रकार ट्रकों पर क्षमता से अधिक बालू लाद कर ले जाया जा रहा है। सबसे बड़ी बात है कि सासाराम , बिक्रमगंज डेहरी मुख्य शहर से यह बालू का खेप गुजरती है। इसी इलाके में कई थाना तथा बड़े अधिकारियों के कार्यालय एवं आवास हैं। स्थानीय लोगों की माने तो इसमें कहीं ना कहीं प्रशासनिक मिलीभगत है। तभी तो दिनदहाड़े धड़ल्ले से बालू के ओवरलोडिंग का गोरखधंधा चल रहा है और कहीं किसी को नजर नहीं पड़ रही है। 

बावजूद स्थानीय स्तर पर सेटिंग के तहत यह गोरखधंधा आज भी जा रही है। दिखावे के लिए आए दिन थोड़ी बहुत कार्रवाई के नाम पर दो चार ट्रक पकड़ लिए जाते हैं और फिर स्थिति जस की तस हो जाती है। जब इस संबंध में जिला परिवहन पदाधिकारी रामबाबू से पूछा गया तो अपना पल्ला झाड़ते नजर आए। उनका कहना था बालू खनन माइनिंग विभाग से जुड़ा मामला है। वह जानें, जहां तक गाड़ियों के ओवरलोडेड होने की बात है तो कार्रवाई करने का अधिकार परिवहन विभाग से छीन लिया गया है। अब स्थानीय एसडीओ ही पूरे मामले में कार्रवाई करते हैं।

Find Us on Facebook

Trending News