लालू की बेटी रोहिणी को केंद्रीय मंत्री के बेटे ने दी चुनौती – भाइयों की तरह अज्ञानी बहन, राजनीति करने का मन है तो बिहार आ जाएं

लालू की बेटी रोहिणी को केंद्रीय मंत्री के बेटे ने दी चुनौती – भाइयों की तरह अज्ञानी बहन, राजनीति करने का मन है तो बिहार आ जाएं

BHAGALPUR : सरकारी बैठकों में तेजस्वी यादव और तेज प्रताप द्वारा अपने सहयोगियों और रिश्तेदारों की मौजूदगी को लेकर हो रहे हंगामे पर लालू प्रसाद की बेटी रोहिणी आचार्य ने अश्विनी चौबे और उनके बेटे अर्जित की तस्वीर पोस्ट की थी, उसके बाद खुद रोहिणी बुरी तरह से घिरती हुई नजर आ रही हैं। फोटो वायरल होने के बाद अब खुद अर्जित शाश्वत चौबे ने रोहिणी आचार्य की ज्ञान पर सवाल उठा दिए हैं। 

बक्सर सांसद सह केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बाबा के बड़े पुत्र अर्जित शाश्वत चौबे ने कहा है कि जिस प्रकार से तथ्यहीन बातों को बताकर बिहार वासियों के आंखों में धूल झोंकने का कार्य कर रहा है, उसका घोर प्रतिकार करता हूं। साथ ही सिंगापुर में एयर कंडीशनर में बैठकर उपमुख्यमंत्री तेजस्वी जी एवं वन मंत्री तेजप्रताप जी की बहन रोहिणी आचार्या जी ने अपने अनर्गल पोस्ट के माध्यम से अपने अज्ञान का परिचय दे रही हैं, जिन्हें यह समझ में ही नहीं आता हो कि निजी व सरकारी कार्यक्रम में क्या अंतर होता है। बिहार की जनता के सामने लगातार राष्ट्रीय जनता दल के कार्यगुजारीओं की पोल खुल रही है। इससे इनके नेता बौखला गए हैं। विदेश में रहकर ट्वीट करने से कोई ज्ञानी नहीं हो जाता है। वैसे इनके काम करने के अंदाज से यह बिहारवासियों को समझ आ गया है की, अब सरकार का रिमोट इनके देश और विदेश में रहने वाले जीजाओं के हाथ में है। जिस प्रकार की कानून व्यवस्था पिछले एक सप्ताह से दिख रहा है ऐसा प्रतीत होता है की बिहार जंगलराज -2 की ओर अग्रसर है।

सरकारी नहीं निजी बैठक की तस्वीरें

सरकारी मीटिंग में जब जीजा जी व तथाकथित सलाहकार की बैठकों की खबर जनता के सामने आई तो जिस तरह से एक मेरा निजी कार्यक्रम की फोटो को अपने सोशल प्लेटफार्म पर लगाकर राष्ट्रीय जनता दल के नेताओं ने जनता को गुमराह करने की कोशिश की यह शर्मनाक है।

माफी मांगे रोहिणी और राजद के लोग

बेहद गुस्से में दिखे अर्जित ने रोहिणी आचार्य और राजद के नेताओं से बिहार के लोगों के बीच गलत जानकारी दिए जाने को लेकर माफी मांगने को कहा है। अर्जित ने कहा कि अपनी गलत राजनीति के लिए उन्होंने मेरी गलत छवि लोगों के सामने प्रस्तुत करने की कोशिश की है। अगर वह माफी नहीं मांगते हैं तो उन्हें यह साबित करना होगा कि मैंने कब सरकार प्रोटोकॉल को तोड़कर अपने पिता के साथ बैठक में शामिल हुआ। 

राजनीति करने का शौक है, बिहार आ जाएं रोहिणी

अगर उन्हें बिहार की सेवा करना होता तो बिहार आकर गरीब गुरुवा के लिए काम करतीं लेकिन वो भी अपने नवमी फेल भाइयों की तरह ही अज्ञान का परिचय दे रही हैं। राजद परमज्ञानियों की पार्टी है। इतनी ज्ञानी पार्टी है कि इनके नेता 10वीं भी पास नहीं कर पाए। राजद का हाल यह है कि इन पर दूसरों को नसीहत, खूद मियां फजीहत कहावत सटीक बैठती है।

Find Us on Facebook

Trending News