मांझी की बदजुबानी के खिलाफ ब्राह्मणों का अनोखा विरोध, मांझी के घर के बाहर खाया दही-चूड़ा

मांझी की बदजुबानी के खिलाफ ब्राह्मणों का अनोखा विरोध, मांझी के घर के बाहर खाया दही-चूड़ा

पटना. ब्राह्मणों के खिलाफ अपशब्द बोलने वाले बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के खिलाफ ब्राह्मण समुदाय के लोगों ने अनोखा विरोध प्रदर्शन किया है. ब्राह्मणों के संगठनों ने गुरुवार को जीतन राम मांझी के पटना स्थित आवास के बाहर बीच सड़क पर दही चूड़ा खाकर अपना विरोध जताया. 

श्री राम सेना और हिंदू पुत्र संगठन के कार्यकर्ता मांझी के घर पर पूजा पाठ करके विरोध जताने आए थे. हालाँकि वहां मौजूद पुलिस वालों ने प्रदर्शनकारियों को मांझी के घर से कुछ दूर ही रोक दिया. विरोध जताने वालों का कहना था कि मांझी कहते हैं कि ब्राह्मण उनके समुदाय के लोगों के घर में खाना नहीं खाते हैं. इसलिए आज हम ब्राह्मण समुदाय के लोग मांझी के घर पर खाना खाकर विरोध जताने आए है.

हालाँकि जब पुलिस ने उन्हें रोक दिया तो उन्होंने बीच सड़क पर ही बैठ कर विरोध जताना शुरू कर दिया. बाद में उन लोगों ने वहीं दही चूड़ा भी खाया. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि आज मांझी के घर जब हम लोग खाने आए हैं तो वे खाना खिलने से मना कर दिए. आज न सिर्फ ब्राह्मण बल्कि सभी समुदाय के लोग एक साथ खाना खा रहा है. हम सब किसी खास जाति को नहीं मानते बल्कि हम सब हिंदू हैं. हमारी पहचान हिंदू हैं. 

वहीं प्रदर्शनकारियों ने मांझी के खिलाफ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और अन्य ब्राह्मण नेताओं के मांझी के बयान की निंदा नहीं करने पर उनके खिलाफ भी आक्रोश जताया. जीतन राम ने पिछले कुछ दिनों में कई बार ब्राह्मण समुदाय के लिए अपशब्द कहे थे. 



Find Us on Facebook

Trending News