नीतीश कुमार की शराबबंदी को उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार में बताया विफल, BJP ने कहा – आप तो मुख्यमंत्री से ज्यादा इमानदार हैं...

नीतीश कुमार की शराबबंदी को उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार में बताया विफल, BJP  ने कहा – आप तो मुख्यमंत्री से ज्यादा इमानदार हैं...

PATNA :  बिहार में शराबबंदी को सफल बताने में सीएम नीतीश कुमार कभी नहीं चूकते हैं। लेकिन यह कितनी सफल है, यह बिहार में शराब पीकर मरनेवालों और शराब के धंधे में लिप्त लोगों के खिलाफ लगातार हो रही कार्रवाई को समझा जा सकता है। अब तक सरकार की तरफ से कोई भी इस बात मानने को तैयार नहीं था, लेकिन अब जदयू संसंदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने इस बात को मान लिया है कि बिहार में शराबबंदी सफल नहीं है।

उपेंद्र कुशवाहा ने एक कार्यक्रम के दौरान शराब बंदी को लेकर कहा कि सरकार  चाहे कितना भी कहे, लेकिन हकीकत क्या है, यह सभी को नजर आ रहा है। बिहार में शराबबंदी तभी सफल होगी, जब यहां के लोग चाहेंगे। सिर्फ सरकार के कहने से शराबबंदी को सफल नहीं बनाया जा सकता है। लोग अगर शराब पीना बंद कर देंगें तो खुद बखुद शराबबंदी कामयाब हो जाएगी। सिर्फ रोक लगाने से शराबबंदी सफल नहीं होगी।

हालांकि इस दौरान उन्होंने शराबबंदी के फायदे भी बताए। उन्होंने कहा कि शराबबंदी के कारण हिंसक घटनाओं में कमी आई है। दुर्घटनाओं में कमी आई है। लेकिन पूर्ण रूप से यह तभी कामयाब होगा, जब लोग खुद शराब बेचना या पीना नहीं छोड़ देते

भाजपा हुआ कायल

जिस तरह से शराबबंदी पर उपेंद्र कुशवाहा ने असफल बताया है, उसके बाद भाजपा उनकी इमानदारी की कायल हो गई है। पार्टी प्रवक्ता निखिल आनंद ने उपेंद्र कुशवाहा के बयान को ट्विटर पर शेयर किया है। साथ ही कैप्शन में उनकी जमकर तारीफ की है। निखिल आनंद ने लिखा है कि जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा जी बेशक नीतीश कुमार जी से ज्यादा ईमानदार समाजवादी है। उन्होंने सच कहा, "शराबबंदी विफल है- अपराध जारी है।" उपेंद्रजी! शराबबंदी के नाम पर पैरेलेल इकोनामी और अपराध से जनता त्रस्त है और अब नीतीश कुमार जी को आश्रम भेजने के लिए गोलबंद हो रही है।




Find Us on Facebook

Trending News