उपेेंद्र कुशवाहा ने एनडीए और महागठबंधन पर कसा तंज, कहा- दोनों पार्टी सुर में सुर मिलाकर रोजगार-रोजगार की कव्वाली गा रहे हैं

उपेेंद्र कुशवाहा ने एनडीए और महागठबंधन पर कसा तंज, कहा- दोनों पार्टी सुर में सुर मिलाकर रोजगार-रोजगार की कव्वाली गा रहे हैं

पटना... चुनाव के तीसरे चरण के चुनाव के लिए बुधवार को सुगौली में रालोसपा की एक जनसभा आयोजित की गई। सुगौली सीट से प्रत्याशी संत प्रसाद सिंह के लिए रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने जनता को संबोधित कर वोट मांगा। उन्होंने कहा कि संत प्रसाद सुगौली को अनुमंडल बनाने और काॅलेज खोलने की बात कर रहे थे, इससे मैं प्रभावित हूं। मेरे सामने जब कोई शिक्षा को बेहतर करने की बात करता है तो मुझे बहुत खुशी होती है, क्योंकि लोग शिक्षित होंगे तभी देश बेहतर होगा। 

इस दौरान उपेंद्र कुशवाहा ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोग अपने मन की बात रेडियो पर करते हैं, लेकिन हम अपने मन की बात आपके सामने करते हैं। यहां स्कूल काॅलेज जरूर खुलेगा। मुझे स्कूल काॅलेज खोलने की बात कहना सबसे अधिक पसंद है। उन्होंने विरोधियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि आपने दोनों सरकारों को 15-15 साल का समय दिया, लेकिन आपके लिए दोनों सरकारों ने क्या किया। 


उपेंद्र कुशवाहा ने महागठबंधन के सीएम पद उम्मीदवार तेजस्वी यादव पर प्रहार करते हुए कहा कि बिहार के तत्कालीन मुख्यमंत्री जब अपनी बच्चे को 9वीं से अधिक की शिक्षा दे नहीं पाए तो ये क्या युवाओं को रोजगार देंगे। आज कह रहे हैं कि हमको दीजिए 5 साल हम नौकरी देंगे। बिहार लोग अपने मुद्दों पर वोट देंगे। अनाप शनाप बातों में आकर वोट नहीं देंगे। 

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि दोनों पार्टी रोजगार को लेकर कव्वाल गा रहे हैं। एक कहता है 10 लाख देंगे, तो दूसरा सुर में सुर मिलाकर कहता है 19 लाख देंगे। 

हम मानते हैं कि विभागों में सरकारी विभागों में कुछ पद खाली हैं, लेकिन सिर्फ कह देने से ही 10 लाख नौकरी नहीं मिल जाएगी। इसके लिए बड़ी योजना बनानी पड़ेगी जो सिर्फ मेरे पास है। हमने तय किया है जिस दिन विभागों में सराकरी नौकरी के लिए विज्ञापन निकलेगा तो 6 माह के भीतर नौकरी देकर वेतन देने का काम करेंगे। 

वहीं उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि हम बिहार के मजदूरों के लिए यहीं योजना बनाकर पलायन करने से रोकेंगे। हम खेतों में काम करने वाले मजदूरों को पैसा देंगे ताकि किसानों का बोझ कम हो सके। प्रदेश में यहीं छोटे-छोटे उद्योग लगाएंगे। ताकि लोगों को रोजगार मिल सके। 


Find Us on Facebook

Trending News