चोरी के लिए हवाई जहाज से जाता था दूसरे शहर, जगुआर में करता था सफर, दस पत्नियां करती थी सहयोग, बिहार के शातिर के ठाठ देख पुलिस भी रह गई हैरान

चोरी के लिए हवाई जहाज से जाता था दूसरे शहर, जगुआर में करता था सफर, दस पत्नियां करती थी सहयोग, बिहार के शातिर के ठाठ देख पुलिस भी रह गई हैरान

GHAZIABAD : आम तौर पर चोर की जो छवि लोगों के जेहन में बनी हुई है, वह है नकाब पहने एक व्यक्ति का। लेकिन गाजियाबाद में पुलिस ने चोरों के एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है, जो इन सबसे अलग है, जिसका सरगना किसी शहर में चोरी करने जाने के लिए भी हवाई जहाज में सफर करता था। जगुआर मैंटेन करता था, जिसे देखने के बाद कोई अनुमान नहीं लगा सकता कि वह कोई चोर है। इसी कार से वह चोरियों के लिए कोठियों की रेकी करता था और चोरी की योजना को अंजाम देता था।

दरअसल, दिल्ली से सटे गाजियाबाद के स्टील कारोबारी कपिल गर्ग की कोठी से एक करोड़ के जेवर चोरी मामले का पर्दाफाश करते हुए कवि नगर पुलिस ने एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है। पुलिस ने गैंग सरगना इरफान की एक गुलशन प्रवीण और दो साथियों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों से पुलिस ने लाखों कीमत के सोने व हीरे के जेवर एक जगुआर कार व एक स्कार्पियो बरामद की है। यहां तक कि विभिन्न शहरों में उसकी दस कथित पत्नियां भी हैं जो वारदात में सहयोग करती हैं। शातिर चोर और गैंग का सरगना मूलरूप से बिहार के सीतामढ़ी का रहने वाला है।

सीतामढ़ी से जुड़े हैं गैंग के तार

गाजियाबाद के एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि बिहार के सीतामढ़ी निवासी विक्रम शाह, मुहम्मद शोएब व मुख्य आरोपित इरफान की पत्नी गुलशन प्रवीण को गिरफ्तार किया गया है। इरफान व इमरान फरार हैं। शोएब दरअसल इरफान का चालक है जबकि विक्रम शाह कोठियों की रेकी करता था। 


रहन सहन देख शक करना मुश्किल

बताया गया कि इरफान पर उत्तर प्रदेश में आगरा, दिल्ली, पंजाब, गोवा, बिहार समेत अन्य राज्यों में दो दर्जन से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। वह पूर्व में जेल भी जा चुका है। इरफान के पास महंगी कार जगुआर है जो उसकी पत्नी के नाम पर है। इस कार में वह चालक के साथ चलता है और चोरी करता है। महंगी कार होने के कारण कोई शक भी नहीं करता। वह महंगे होटलों में रुकता है। बिहार से आना जाना वह कार या हवाई जहाज से करता है।

गोवा के पूर्व राज्यपाल के रिश्तेदार के घर भी की थी चोरी
 एसएचओ कविनगर संजीव कुमार शर्मा ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि इरफान केवल बड़ी कोठियों को ही अपना निशाना बनाता है। देश भर में वह 50 से अधिक बड़ी चोरी कर चुका है। इसके साथ ही कुछ माह पूर्व उसने राजनगर सेक्टर.3 में भी एक कोठी में चोरी का प्रयास किया था। लेकिन प्रयास सफ ल नहीं हो पाया और उसकी फु टेज सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। इसके बाद वह मौके से फ रार हो गया था। जांच में पता चला है कि इरफान गोवा के पूर्व राज्यपाल के रिश्तेदार के घर भी बड़ी चोरी की घटना को अंजाम दे चुका है।

एक चूक ने पहुंचाया जेल

कविनगर थाना प्रभारी संजीव कुमार शर्मा ने बताया कि हाल में ही बिहार जाते हुए इरफान की जगुआर कार सड़क दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो गई थी। इसके बाद उसने नई स्कार्पियो कार खरीद ली थी। पुलिस ने बताया कि स्टील कारोबारी के यहां चोरी करने के लिए इरफान स्कार्पियो से चालक शोएब के साथ आया था। चार सितंबर को तड़के करीब चार बजे इरफान ने कारोबारी के कविनगर डी ब्लाक वाले आवास में एक करोड़ की चोरी की थी। इसके बाद वह डासना पहुंचा और एक पेट्रोल पंप पर रुका। यहां उसने तेल नहीं डलवाया और ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे पर चढ़ गया। यहां उसके फास्टटैग से टोल कटा था। 

तलाश करती हुई पहुंची पुलिस

पुलिस ने जब जांच की तो एक स्कार्पियो कार संदिग्ध दिखाई दी। पुलिस कविनगर से टोल तक जांच करती हुई पहुंची तो यहां स्कार्पियो का नंबर मिल गया। इसके बाद पुलिस ने गिरोह पर पकड़ बना ली।

Find Us on Facebook

Trending News