उत्तर बिहार से नीट के परीक्षा परिणाम में अव्लय रही बायोलॉजी एट फिंगरटिप्स की छात्रा :- नेहा कुमारी

उत्तर बिहार से नीट  के  परीक्षा परिणाम में  अव्लय रही  बायोलॉजी एट फिंगरटिप्स की  छात्रा :- नेहा कुमारी

DARBHANGA: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) नीट रिजल्ट 2020 के नतीजे घोषित हो गए हैं। पिछले वर्षो की भांति इस वर्ष भी बायोलॉजी एट फिंगर्टिप्स का जलवा बरकरार रहा.  इस वर्ष बायोलॉजी एट फिंगर्टिप्स की छात्रा नेहा कुमारी क्रमांक संख्या 1502116181 ने पूरे उत्तर बिहार में सर्वाधिक 645 अंक प्राप्त किए! ऑल इंडिया रैंक 4753 एवं कैटेगरी रैंक 400 इसके साथ ही उसने एक नया कीर्तिमान स्थापित किया और बायोलॉजी एट फिंगर्टिप्स का नाम गौरवान्वित किया!  बायोलॉजी एट फिंगर्टिप्स के निदेशक डॉ एम मनोहर ने बताया की नेहा कुमारी अभी तक के पूरे मेरे कैरियर में सर्वश्रेष्ठ छात्र बन के सामने आई है और इसके लिए पूरा बायोलॉजी फिंगर्टिप्स संस्थान एवं मैं स्वयं गौरवान्वित महसूस करता हूं!  मीडिया से बात करते हुए डॉ एम मनोहर ने बताया किसी भी छात्र का सफलता का श्रेय सिर्फ और सिर्फ उस छात्र को जाता है क्योंकि शिक्षक तो सिर्फ मार्गदर्शक के रूप में काम करते हैं असल परिश्रम तो उस छात्र का है जो इस मुकाम तक पहुंचते हैं और शिक्षक द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलते हैं!  भले ही रास्ता कितना भी कठिन हो मंजिलें मिलती ही है और इसी बात को चरितार्थ कर दिखाया है नेहा कुमारी ने! नेहा कुमारी एक सामान्य परिवार से ताल्लुक रखती हैं इनकी दादा जी श्री गणेश मिश्रा एक मध्य विद्यालय से शिक्षिक से सेवनिवत्र्त हैं और पिता सुनील मिश्रा मध्य विद्यालय में शिक्षक हैं!  इन सारी कठिनाइयों के बावजूद नेहा कुमारी ने अपने हौसले कभी भी टूटने नहीं दिए और परिश्रम के साथ अपनी मंजिल को हासिल किया! इस पूरी सफलता का श्रेय नेहा ने अपने दादा, माता पिता और बायोलॉजी फिंगर्टिप्स के निदेशक डॉ एम मनोहर को दिया! कहते हैं "कौन कहता है कि आसमां में सुराख नहीं हो 


सकता एक सिक्का तो तबियत से उछालो यारो" वाकई नेहा कुमारी ने इस बात को पूरी तरीके से चरितार्थ कर दिखाया है! मीडिया से बात करते हुए नेहा ने बताया की तैयारी के दौरान मेरी मुलाकात बहुत सारे शिक्षकों से हुई लेकिन बायोलॉजी एट फिंगर्टिप्स के निदेशक डॉक्टर मनोहर सर ने जो मेरे पर यकीन दिखाया और साथ ही साथ जो उन्होंने अध्ययन में मदद किया इसके लिए मैं सर की शुक्रगुजार हूं और इसे मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकती!  सर हमेशा मेरे साथ एक अच्छे दोस्त की तरह मोटिवेट करते रहे और जरूरत पड़ने पर अच्छी अच्छी पुस्तकें भी उपलब्ध करवाई जो मेरे इस सफलता के मुख्य बिंदु हैं! आने वाले छात्रों के लिए नेहा ने यह टिप्स दिए कि अगर घर पर 8 से 10 घंटे का स्वाध्याय किया जाए और नियमित रूप से क्वेश्चन प्रैक्टिस किया जाए साथ ही साथ नियत समय पर टेस्ट दिया जाए तो कुछ भी संभव है! नेहा ने बताया की एनसीईआरटी किताब का पूर्ण अध्ययन आपकी सफलता तय करती है जो कि सबसे महत्वपूर्ण है! इस साल नीट 2020 में लगभग पंद्रह लाख 97 हजार बच्चे बच्चों ने परीक्षा दिया था और इसमें यह रैंक वाकई काबिले तारीफ है! नेहा के अलावा संस्थान से चार और बच्चों ने सफलता हासिल की जिसमें संतोष के 622 नंबर खुशबू 617 नंबर प्रभाकर सिंह 593 नंबर और नाज़िया परवीन ने 583 नंबर प्राप्त किए! सभी सफल छात्रों को भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए डॉ एम मनोहर ने भविष्य में एक सफल डॉक्टर बनने की शुभकामना दी और आने वाली जिंदगी को और बेहतरीन करने के संदेश दिए!

Find Us on Facebook

Trending News