यह कैसा समाज, यह कैसी प्रथाः अपने से तीन गुना ज्यादा उम्र के दूल्हे के पल्ले बांध रहे थे नाबालिग, इस फरिश्ते की वजह से ऐसे रुकी शादी

यह कैसा समाज, यह कैसी प्रथाः अपने से तीन गुना ज्यादा उम्र के दूल्हे के पल्ले बांध रहे थे नाबालिग, इस फरिश्ते की वजह से ऐसे रुकी शादी

PURNEA: समाज चाहे जितनी भी तरक्की कर ले और लड़कियां भले ही ओलंपिक और सेना में देश का प्रतिनिधित्व करें, मगर मां-बाप के मन में हमेशा से एक ही इच्छा रहती है कि जल्द से जल्द लड़कियों के हाथ पीले कर ससुराल भेजकर गंगा नहा लें। हमारे यहां आज भी लड़कियों को बोझ माना जाता है और उनके जन्म के साथ ही मां-बाप दहेज के लिए रकम जोड़ना शुरू कर देते हैं। कुछ ऐसा ही मामला नजर आया पूर्णिया जिले के मुफस्सिल थाना इलाके में, जहां 14 साल की नाबालिग की शादी उसके पिता के उम्र के शख्स से जबरन कराई जा रही थी।

जिले के मुफस्सिल थाना के डिमिया छतरजान गांव में 14 वर्षीय नाबालिग की शादी उसी के परिजन जबरन ढंग से उत्तर प्रदेश के 40 साल के दूल्हे से कर रहे थे। लड़की ना तो शादी के लिए राजी थी, ना ही ससुराल जाने के लिए। इसपर लड़की पक्ष आनन-फानन में उसे लेकर मंदिर चले गए और जल्दी-जल्दी शादी की रस्में पूरी करने लगे। इसकी खबर इलाके के पंच में शामिल एक व्यक्ति को लगी। मामले की गंभीरता को समझते हुए पंच विद्यानंद मंडल इसकी लिखित सूचना मुफस्सिल थाना को दी। जिसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मौके पर पहुंचकर दूल्हा और लड़की के पिता को हिरासत में ले लिया। फिलहाल मौके पर चाइल्ड लाइन, बाल संरक्षण इकाई समेत कई एजेंसी पहुंच गई है औऱ नाबालिग को साथ ले गई हैं। 

थाना प्रभारी आदित्य कुमार ने कहा कि एक आवेदन मिला है। दूल्हा और लड़की के पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। वरीय अधिकारियों के निर्देश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। बाल संरक्षण समिति के जिला समन्वयक मोहम्मद तफरीन ने कहा कि 18 साल से कम उम्र में लड़कियों की शादी और 21 साल से कम उम्र में लड़कों की शादी अवैध है। इसके लिए कई कड़े कानून भी है, इसके बावजूद कुछ ऐसे मामले आ रहे हैं। वो लोग भी इस पर लगातार नजर बनाए हुए हैं।

Find Us on Facebook

Trending News