बिहार में अब JDU है कहां? राष्ट्रवाद बनाम परिवारवाद आमने-सामने, 'नीतीश' की पार्टी तो बैशाखी पर लटकी हुई है...

बिहार में अब JDU है कहां? राष्ट्रवाद बनाम परिवारवाद आमने-सामने, 'नीतीश' की पार्टी तो बैशाखी पर लटकी हुई है...

PATNA : गोपालगंज और मोकामा उपचुनाव को लेकर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा की बिहार में दो सीटों के लिए हुआ। उपचुनाव में भाजपा की सीट भाजपा के पास रही और राजद की सीट राजद के पास। उन्होंने कहा की भाजपा बनाम 8 पार्टियों के इस दंगल कई विशेषज्ञों ने एकतरफा मान लिया था। कई चुनावी पंडितों ने दोनों सीटों पर भाजपा की करारी शिकस्त की भविष्यवाणी तक कर दी थी। लेकिन सारे कयासों पर पानी फेरते हुए हम न केवल गोपालगंज की सीट बचाने में सफल हुए। बल्कि मोकामा में भी कड़ी टक्कर देने में कामयाब हुए।  

   

संजय जायसवाल ने कहा की इन दोनों चुनावों ने साफ़ कर दिया है कि अब बिहार की राजनीति भाजपा बनाम राजद हो चुकी है। यानी केंद्र की तरह यहां भी अब राष्ट्रवाद बनाम परिवारवाद आमने-सामने आ चुका है। वहीं अवसरवाद की राजनीति करने वाले जदयू जैसे दल किनारे पर हमेशा की तरह बैसाखी पर लटके हुए हैं। 

मोकामा और गोपालगंज में टीवी चैनलों पर बयान दे रहे राजद कार्यकर्ताओं ने भी नीतीश कुमार के सहयोग को सिरे से नकार कर इस बात को पुष्ट कर दिया है कि जदयू की स्थिति भी अब कांग्रेस सरीखी हो चुकी है। जिस तरह कांग्रेस अपना अस्तित्व बचाए रखने के लिए राजद के हर अपमान को सहते हुए हां में हां मिलाती रहती है, जल्द ही जदयू भी अब उन्हीं हालातों से दो चार होने वाली है।   

उन्होंने कहा की कुल मिलाकर बिहार की जनता के सामने तस्वीर पूरी तरह से साफ़ हो गयी है। अब उनके सामने भेंड़ की खाल में छिपे भेड़ियों को पहचानने की दुविधा नहीं है। नीतीश तेजस्वी राज में आज कानून व्यवस्था कहीं नहीं दिख रही है।  2020 के चुनाव में बिहार में कानून व्यवस्था नहीं खराब हो, इसके कारण NDA को वोट दिया गया था। इस बहुमत की प्रतिष्ठा हम सदा रखेंगे और बिहार मे कानून व्यवस्था के प्रति हमेशा सजग विपक्ष का काम करेंगे। 

Find Us on Facebook

Trending News