कोरोना के नए वैरिएंट 'Mu' को लेकर WHO ने जताई चिंता, कहा- वैक्सीन को भी मात दे सकता है यह वैरिएंट

कोरोना के नए वैरिएंट 'Mu' को लेकर WHO ने जताई चिंता, कहा- वैक्सीन को भी मात दे सकता है यह वैरिएंट

Desk. कोरोना के नए वैरिएंट पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि नए वैरिएंट 'Mu' में वैक्सीन को चकमा देने के लक्षण नज़र आ रहे हैं. संयुक्त राष्ट्र के स्वास्थ्य संगठन ने वायरस के नए रूप को 'वेरिएंट ऑफ इन्ट्रस्ट' की केटेगरी में रखा है और कहा है कि इस पर बहुत ही करीब से नजर रखी जा रही है.

Mu वैरिएंट को 30 अगस्त को डब्ल्यूएचओ की निगरानी में रखा गया था. Mu को वैज्ञानिक नाम B.1.621 से भी जाना जाता है और यह वैरिएंट कई म्युटेशन से बना हुआ है, जो इम्यून को आसानी से चकमा दे सकता है. बता दें कि WHO ने वायरस के म्युटेशन को लेकर कहा है कि म्यूटेशन की व्यापकता को उचित महत्व देना चाहिए, क्योंकि सभी देशों में सही सिक्वेंसिंग की व्यवस्था अभी तक नहीं की गयी है.

साथ ही डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि इस प्रकार के फेनोटाइपिक और क्लीनिकल विशेषताओं को समझने के लिए और अधिक अध्ययन की आवश्यकता है. हालांकि यूएन एजेंसी ने साफ़ किया है कि 'इम्यून को चकमा' देने की क्षमता और वैक्सीन प्रतिरोध को लेकर अधिक शोध की आवश्यकता है.

वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि शुरुआती डाटा से यह पता चल रहा है कि इस वैरिएंट की शुरूआत अफ्रीका से हुई है और इसका व्यवहार बीटा वैरिएंट जैसा है. बता दें की पिछले चार सप्ताह में 4500 से अधिक सीक्वेंस मरीजों से लिए गए वायरस सैंपल के हैं. मिली जानकारी के अनुसार साउथ अफ्रीका और यूरोप में इस वैरिएंट के बड़े प्रसार की खबरें आ रही हैं.

Find Us on Facebook

Trending News