बिहार विधान परिषद चुनाव में JDU से कौन होंगे उम्मीदवार? इनके नाम की चर्चा तेज, जानें......

बिहार विधान परिषद चुनाव में JDU से कौन होंगे उम्मीदवार? इनके नाम की चर्चा तेज, जानें......

PATNA: जेडीयू के विधान पार्षद तनवीर अख्तर के निधन से खाली हुई सीट पर चुनाव की घोषणा हो गई है। भारत निर्वाचन आयोग ने 4 अक्टूबर को मतदान कराने का ऐलान कर दिया है। जिस एक सीट पर चुनाव होने हैं वो जेडीयू कोटे की सीट है। कांग्रेस से जेडीयू में शामिल हुए तनवीर अख्तर का 8 मई 2021 को निधन हो गया था। विप की खाली सीट पर चुनाव के लिए 15 सितंबर को नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। जेडीयू नेतृत्व किसे प्रत्याशी बनायेगा इस पर चर्चा शुरू है।हालांकि जो भी विधान परिषद जायेंगे उनका कार्यकाल 21 जुलाई 2022 तक का ही होगा।  

जेडीयू में चर्चा तेज

 विधानपरिषद की एक सीट पर उम्मीदवार को लेकर जेडीयू खेमे में चर्चा शुरू है। किसी समर्पित कार्यकर्ता को टिकट मिलेगा या फिर दिवंगत तनवीर अख्तर की पत्नी को, इस पर हर किसी की निगाह है। चर्चा है कि जेडीयू नेतृत्व सहानुभूति के तौर पर तनवीर अख्तर की पत्नी को भी टिकट देकर विधानपरिषद भेज सकती है। इसके पीछे के जो कारण गिनाये जा रहे हैं वो सहानुभूति तो है हीं साथ-साथ अल्पसंख्यक होना भी है। तनवीर अख्तर कांग्रेस से विधान पार्षद थे लेकिन पाला बदलकर अशोक चौधरी के साथ जेडीयू में शामिल हुए थे। उनका कार्यकाल 21 जुलाई 2022 तक था लेकिन 8 मई 2021 को ही निधन हो गया था। इधर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कल यानी 9 सितंबर को दिवंगत तनवीर अख्तर के पटना स्थित न्यू एम0एल0सी0 क्वार्टर जाकर शोक संतप्त परिजनों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी । 

रेस में जेडीयू नेता रविन्द्र सिंह 

इधर, जेडीयू के समर्पित कार्यकर्ता राष्ट्रीय सचिव रविन्द्र सिंह के नाम की भी चर्चा तेज है। रविन्द्र सिंह लंबे समय से पार्टी के लिए काम करते आये हैं लेकिन पार्टी ने अबतक वो सम्मान नहीं दिया जिसके वो हकदार थे। बताया जाता है कि वे कई महीनों से प्रदेश कार्यालय भी आना छोड़ दिया था। आज वे प्रदेश कार्यालय पहुंचे और काफी समय तक बैठे। एक बार फिर से उनकी सक्रियता से यह चर्चा शुरू है कि विधानपरिषद की खाली सीट पर उम्मीदवार बनाया जा सकता है। पार्टी के कई बड़े नेता भी मानते हैं कि रविन्द्र सिंह वकाई में इसके हकदार हैं। हालांकि जेडीयू नेतृत्व इस मसले पर जल्दीबाजी में नहीं है। क्यों कि 22 सितंबर को नामांकन की अंतिम तारीख है। संभावना है कि हर बार कि तरह इस बार भी नामांकन की अंतिम तारीख से एक-दो दिन पहले उम्मीदवार की घोषणा हो। 

जानें चुनाव का पूरा शेड्यूल

विधानपरिषद की एक सीट के लिए 15 सितंबर को नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। वही नामांकन की अंतिम तारीख 22 सितंबर है। नामांकन की स्कूटनी 23 तारीख को और नाम वापसी की अंतिम तारीख 27 सितंबर है। 4 अक्टूबर को सुबह 9:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक वोटिंग और उसी दिन शाम 5:00 बजे मतों की गिनती होगी।

Find Us on Facebook

Trending News