दिखी बदलाव की बयार : डूमरांव प्रखंड के 14 पंचायतों के मुखिया प्रत्याशियों में पूर्व के सिर्फ तीन मुखिया ही बचा सके अपना पद, बाकी हुए धराशायी

दिखी बदलाव की बयार : डूमरांव प्रखंड के 14 पंचायतों के मुखिया प्रत्याशियों में पूर्व के सिर्फ तीन मुखिया ही बचा सके अपना पद, बाकी हुए धराशायी

BUXER : सुबे में हो रहे तीसरे चरण के पंचायत चुनाव क वोटों की गिनती बीते रविवार को पूरी हो गई। इस दौरान बक्सर जिले के डुमराव प्रखंड में 14 पंचायतों के   1500 प्रत्याशियों का भाग्य का फैसला आज हुआ। चुनाव प्रक्रिया की रिपोर्ट आने के बाद पूरे प्रखंड में बदलाव की बयार देखने को मिली। जिला प्रशासन द्वारा जारी की गई सूची के अनुसार कुल 14 पूर्व मुखिया में से मात्र तीन मुखिया ही अपने सीट को बचा पाए। वहीं 11 पंचायतों में नवनिर्वाचित मुखिया चयनित हुए। वहीं जिला परिषद के 2 सीटों पर भी नए प्रत्याशियों ने अपना कब्जा जमाया।

पुराने मुखिया के काम से असंतुष्ट

पंचायत चुनाव के परिणाम बताते हैं कि इस बार पूर्व ग्रामीण सरकार अपने काम से लोगों को संतुष्ट करने में नाकामयाब साबित हुई। कई जगहों से इस बात की शिकायत मिलती रही कि उनके इलाके में शासन की कई योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है और मुखिया जी सिर्फ अपने करीबियों को ही फायदा पहुंचा रहा है। यह नाराजगी भी इस बार के पंचायत चुनाव में देखी जा रही है। यह सिर्फ डूमरांव प्रखंड से जुड़ा नहीं है, बल्कि दूसरे जिलों में भी ऐसे ही परिणाम सामने आए हैं।

 पंचायत       विजेता मुखिया 

1.) चिलहरी  -     विभा देवी।

2.) कुशलपुर  -    प्रभावती देवी।

3.) अटाव      - पुष्पा देवी।(पुराना)

4.) कंझरुआ  - असगर अली।

5.) मठीला   -  देवेंद्र सिंह।( पुराना)

6.) मुंगाव    - इंद्रजीत सिंह उर्फ इंदल 

7.) कसिया    - भरत तिवारी।

8.) छतनवार  -  ढुनमुन सिंह।

9.) नुआंव     - मंजू देवी। ( पुराना)

10.) सोवा      - मनोरमा देवी।

11.) अरियांव    - विजय बारी।

12.) नन्दन        - रामजी यादव।

13.) लाखनडिहरा -  मुखलाल महतो।

14.) कोरानसराय - कांति देवी।

जिला परिषद           विजेता

1.)उत्तरी पश्चिमी     -  रीना देवी

2.) पूर्वी दक्षिणी    -  सुनैना देवी


Find Us on Facebook

Trending News