ये तो बेहद शर्मनाक है स्वास्थ्य मंत्री जी, लेबर पेन में 1.5 KM पैदल चली गर्भवती महिला, रजिस्ट्रेशन काउंटर पर ही डिलीवरी होने की वजह से नवजात की गिर कर मौत

ये तो बेहद शर्मनाक है स्वास्थ्य मंत्री जी, लेबर पेन में 1.5 KM पैदल चली गर्भवती महिला, रजिस्ट्रेशन काउंटर पर ही डिलीवरी होने की वजह से नवजात की गिर कर मौत

पटना : बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर लगातार सवाल उठते ही रहते हैं. स्वास्थ्य विभाग के लाख दावों के बीच घोर लापरवाही की जो तस्वीरें सामने आते ही हैं वो स्वास्थ्य विभाग की काहिली की पोल खोलकर रख देते हैं. एक ऐसा ही मामला भागलपुर से सामने आया है. जहां एक गर्भवती महिला प्रसव पीड़ा के बीच डेढ़ किलोमीटिर पैदल चलना पड़ता है यही नहीं सरकारी सिस्टम की वजह से गर्भवती महिला रजिस्ट्रेशन काउंटर के पास डिलीवरी हो गई जिससे उसके नवजात की मौत हो गई.

भागलपुर के  दियारा निवासी कुंतीदेवी को शनिवार रात ढाई बजे प्रसव पीड़ा हुई, जिसके बाद वह डेढ़ किलोमीटर पैदल चलकर महादेव सिंह कॉलेज के पास पहुंची, यहां ई-रिक्शे के माध्यम से वह सुबह साढ़े चार बजे तक सदर अस्पताल पहुंची। अस्पताल में तैनात नर्सों ने उसे भरोसा दिलाया कि कुछ ही देर में उसकी डिलीवरी करवा दी जाएगी, लेकिन उसे मायागंज भेज दिया गया। कोई साधन न मिलने के कारण कुंती पैद ही मायागंज के लिए निकल पड़ी और साढ़े छह बजे वहां पहुंच गई, लेकिन रजिस्ट्रेशन काउंटर के पास ही उसकी डिलीवरी हो गई.

जय कुमार सिंह का कहना है कि  डाॅक्टर ताे हमारे पास है ही नहीं, तीन लेडी डाॅक्टर हैं, लेकिन रात में काेई नहीं रहता है डिलीवरी का कार्य नर्साें काे कराना चाहिए था, किसी तरह से लापरवाही हुई है तो पता लगाते हैं, दाेषी के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.


Find Us on Facebook

Trending News