WOMEN’S ODI: 3 मैचों की ODI सीरीज में भारत ने जीता आखिरी मैच, 1-2 से हारकर भी क्लीन स्वीप बचाने में रहीं सफल

WOMEN’S ODI: 3 मैचों की ODI सीरीज में भारत ने जीता आखिरी मैच, 1-2 से हारकर भी क्लीन स्वीप बचाने में रहीं सफल

N4N DESK: पूरा देश इस वक्त जहां आईपीएल के रोमांच में लेने में डूबा हुआ है। वहीं दूसरी तरफ बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि हमारी भारतीय महिला क्रिकेट टीम इस वक्त ऑस्ट्रेलिया टीम के साथ तीन मैचों की वनडे सीरीज खेल रही थी। इस टीम में भारतीय टीम को सफलता तो नहीं मिली। मगर उन्होंने ऑस्ट्रेलिया का 26 मैचों से चला आ रहा जीत का सिलसिला रोक दिया। तीन मैचों की सीरीज में दो मैच हारने के बाद आखिरी मैच भारत ने जीत हासिल की।

265 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम को स्मृति मंधाना ने 22 और शेफाली वर्मा ने 59 रन जोड़कर टीम शानदार शुरुआत दिलाई। एशले गार्डनर ने एनाबेल सदरलैंड के हाथों मंधाना को कैच आउट कराकर टीम को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद शेफाली और यास्तिका वर्मा ने दूसरे विकेट के लिए 101 रनों की साझेदारी कर भारत को मजबूत स्थिति में ला खड़ा कर दिया। हालांकि इसके बाद कंगारू टीम ने 48 रनों पर पांच खिलाड़ियों को आउट कर मैच में वापसी कर ली। फिर स्नेह राणा ने 30 रन और दीप्ति शर्मा ने 31 रन बनाकर सातवें विकेट के लिए 33 रन जोड़कर एक बार फिर मैच में भारत को ला खड़ा किया। 243 के स्कोर पर दीप्ति और 259 रनों के योग पर स्नेह राणा के आउट होते ही मैच काफी रोमांचक मोड़ पर जा पहुंचा। आखिरी ओवर में भारत को जीत के लिए चार रनों की आवश्यकता थी। ओवर की तीसरी गेंद पर झूलन गोस्वामी ने चौका जड़कर भारत को यादगार जीत दिला दी।

भारतीय महिला टीम की रनों के हिसाब से लक्ष्य का पीछा करते हुए यह सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले टीम इंडिया ने अक्टूबर 2019 में साउथ अफ्रीका के वड़ोदरा में 248 रनों का टारगेट का सफलता पूर्वक हासिल किया था। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किसी टीम की यह दूसरी सबसे बड़ी सफल रन चेज रही। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे बड़े लक्ष्य को चेज करने का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के नाम है। 2017 में ऑकलैंड वनडे में कीवी टीम ने 276 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया था।

Find Us on Facebook

Trending News