सब्जी की जगह अब गेंदा फूल की खेती करना चाहते हैं युवा किसान, जानिए क्यों हो रहे हैं आकर्षित

सब्जी की जगह अब गेंदा फूल की खेती करना चाहते हैं युवा किसान, जानिए क्यों हो रहे हैं आकर्षित

KATIHAR : कटिहार हसनगंज का इलाका है कभी सब्जी की खेती के लिए विशेष पहचान रखता था और अब नए दौर के युवा किसान सब्जी की खेती के साथ-साथ गेंदा फूल के खेती में भी हाथ आजमा रहे हैं, अच्छी बात यह है कि इस गेंदा फूल के बाजार को लेकर किसान को परेशान नहीं होना पड़ता है, स्थानीय बाजार में ही उन्हें फूलों की अच्छी कीमत मिल जाती है। 

फूलों के खेती से जुड़े नवीन कुमार बताते हैं कि यह ऐसी खेती है, जिसकी मांग कभी कम नहीं होती है। विशेषकर गेंदा फूल की मांग साल भर रहती है।  पूजा पाठ के अलावा शादी के लगन  में भी स्थानीय बाजार में ही है गेंदा फूल की बड़ा मांग होता है, साथ ही इसमें लागत भी कम लगता है। बेचने के लिए भी कोई परेशानी नहीं होती है। यही कारण है कि इलाके में अब युवा किसान गेंदा फूल की खेती की तरफ आकर्षित हो रहे हैं

सब्जी की तुलना में अधिक लाभ

वहीं किसान मनोज कहते हैं सब्जी की खेती से अलग इस खेती में उम्मीद को देखते हुए उन लोगों ने शुरुआती दौर में कुछ एकड़ में अलग-अलग जगह में इसकी शुरुआत किया है और अच्छा उपज के साथ बाजार मिलने से इस गेंदा फूल की खेती को बढ़ाने पर विचार किया जाएगा, गेंदा फूल की खेती से रोजगार की नई महक से किसान काफी खुश है। उन्होंने बताया कि जहां सब्जी की खेती पर मुनाफा कम होता है, वहीं फूलों की खेती में लाभ अधिक है। साथ ही डिमांड अधिक होने पर कभी कभी अधिक पैसे भी मिल जाते हैं।


Find Us on Facebook

Trending News