बोधगया में वज्रपात की चपेट में आने से युवक की हुई मौत ,परिजनों का रो-रोकर हुआ बुरा हाल

बोधगया में वज्रपात की चपेट में आने से युवक की हुई मौत ,परिजनों का रो-रोकर हुआ बुरा हाल

GAYA : मगध यूनिवर्सिटी थाना क्षेत्र के भोला बीघा गांव में गुरुवार को वज्रपात से एक युवक की मौत हो गई। युवक की पहचान 20 वर्षीय अखिलेश कुमार पिता इंद्रदेव यादव के रूप में की गई है। मिली जानकारी के अनुसार युवक अपने जानवर को चारा देने के लिए गया था। जिसके बाद अचानक तेज बारिश होने लगी। 


इसी बीच तेज आवाज के साथ वज्रपात हुआ। जिसकी चपेट में आने से युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। साथ ही एक जानवर की भी मौत हो गयी है। इस घटना से मृत युवक के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया है। ग्रामीणों ने बताया कि युवक बहुत ही गरीब परिवार से था। इस मामले की ग्रामीणों ने मगध यूनिवर्सिटी थाना को सूचना दी।जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुँची और शव को कब्जे में ले कर पोस्टमास्टर्म के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल गया भेज दिया है। 

वहीँ गया जिले के टेकारी अनुमंडल अंतर्गत रानीगंज के बधार में वज्रपात के चपेट में आने से रानीगंज निवासी सुनीता देवी (उम्र लगभग 40 वर्ष) की मौत झुलसकर हो गईl इस संबंध में मृतक सुनीता देवी के पति-लाला यादव सहित अन्य ग्रामीणों ने मीडिया को बताया कि टिकारी रानीगंज निवासी लाला यादव की पत्नी सुनीता देवी अपने घर से मवेशी को चराने के लिए खेत में गई थी l इसी बीच वज्रपात की चपेट में आ गई। जिससे झूलकर बुरी तरह से जख्मी हो गई l ग्रामीणों में रानीगंज निवासी मनोज कुमार गुप्ता ने आगे बताया कि सुनीता देवी को स्थानीय ग्रामीणों ने विशेष चिकित्सा कराने हेतु स्थानीय अनुमंडलीय अस्पताल टिकारी लेकर गए। जहां डॉक्टर ने देखकर मृत घोषित कर दिया l ऐसे तो अंचलाधिकारी द्वारा मृतक के परिजनों को सरकारी सहायता राशि प्रदान किया गया l घटना की जानकारी मिलते ही इर्द- गिर्द के ग्रामीण इलाको में सन्नाटा पसरा है l

बोधगया से संतोष और गया से मनोज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News