कटिहार में युवक का शौक बन गया रोजगार का साधन, रोज बढ़ रही है ग्राहकों की संख्या, पढ़िए पूरी खबर

कटिहार में युवक का शौक बन गया रोजगार का साधन, रोज बढ़ रही है ग्राहकों की संख्या, पढ़िए पूरी खबर

KATIHAR : कटिहार में एक शख्स की शौक ही उनका रोजगार बन गया। दरअसल अपने शौक को पूरा करने के लिए हसनगंज के रहने वाले सीताराम केवट बाजार से एक जोड़ा खरगोश खरीद कर लाया था। उसी दो खरगोश के बच्चों से धीरे धीरे खरगोश की संख्या बढ़ने लगी और पहले आसपास के लोग सीताराम से खरगोश खरीदने लगे। 

फिर बाहर से भी लोग सीताराम के पास खरगोश खरीदने के लिए पहुँचने लगे। ऐसे ही धीरे-धीरे सीताराम पांच दर्जन से अधिक खरगोश बेच चुके है। जबकि अब भी उनके पास एक दर्जन से अधिक खरगोश उपलब्ध है। बड़े ही आसानी से पांच से छह सौ रुपया जोड़ा बिकने वाले खरगोश खरीदने के लिए अब आस-पास के गांव के साथ शहर से भी खरीदार पहुंचने लगे हैं। इसी को देखते हुए अब सीताराम कहते हैं कि अगर सरकार से मदद मिले तो गाय और बकरी पालन जैसे खरगोश पालन को भी रोजगार बनाना चाहता है। 

बड़ी बात यह है की सीताराम के शौक से मुनाफे की व्यापार को देखते हुए अब हसनगंज गांव के कई लोग खरगोश पालन से जुड़ने लगे हैं और इसे रोजगार बनाने पर विचार कर रहे हैं। बेहद कम खर्च, अति साधारण रखरखाव और आसानी से बाजार में बिक जाने के कारण खरगोश पालन अब इस इलाके में एक नया व्यापार के रूप में विकसित हो रहा है।

कटिहार से श्याम की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News