रिश्वत लेते हुए पकड़े गए नगर परिषद के ईओ, पार्षदों ने विरोध कर अधिकारी को भगाया

रिश्वत लेते हुए पकड़े गए नगर परिषद के ईओ, पार्षदों ने विरोध कर अधिकारी को भगाया

BAGHA. बड़ी खबर बगहा से है जहां रामनगर नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी जितेंद्र कुमार सिन्हा को 20 हज़ार रुपये रिश्वत लेते निगरानी की विशेष टीम ने गिरफ्तार किया है। नगर परिषद की योजनाओं में कमीशन के एवज में कार्यपालक पदाधिकारी रिश्वत ले रहे थे। साथ ही पैसा नहीं देने पर गुणवत्ता पर सवाल उठा रहे थे।  शिकायत के बाद पटना से पहुंची निगरानी की टीम ने नगर पंचायत कार्यालय से जितेंद्र कुमार सिन्हा को गिरफ्तार किया है। इसी बीच वार्ड पार्षदों ने आकर निगरानी टीम के अफसरों से हाथापाई करने लगे. मौका पाकर वे ईओ को अपने साथ लेकर फरार हो गए है.

बकाए वेतन के लिए मांग रहे थे पैसा 

इस कार्रवाई को लेकर डीएसपी सर्वेश कुमार ने बताया  कि नगर परिषद में टैक्स लिपिक से पद पर काम करनेवाले एक कर्मी की तीन साल से वेतन पेंडिंग था, जिसमें वह लंबे समय से भुगतान कराने के लिए नगर परिषद का चक्कर लगा रहे थे। इसी दौरान नगर परिषद के ईओ ने उनसे पेंडिंग वेतन पास कराने के लिए 20 हजार रुपयों की मांग की थी। शुक्रवार को टीम ने ईओ को पैसे लेते हुए रंगेहाथ पकड़ा है.  पूछताछ के बाद निगरानी की टीम अपने साथ ले जा रही थी। तभी मौके पर पहुंचे तीन चार वार्ड पार्षदों ने निगरानी से हाथापाई की. फिर वे उनको अपने साथ लेकर फरार हो गए. इस दौरान पार्षदों ने कार्यालय के बाहर खड़े होकर निगरानी विभाग के खिलाफ नारेबाजी भी की है।

मोतिहारी में भी घुसखोर बाबू धराया

रिश्वत लेने को लेकर ऐसी ही कार्रवाई मोतिहारी में भी की गई है, यहां स्थापना विभाग के बड़ा बाबू को 15 हजार रिश्वत लेते हुए निगरानी विभाग ने पकड़ा था। जिसके बाद वहां मौजूद पार्षदों ने निगरानी टीम पर हमला कर दिया और बड़ा बाबू को वहां से भगा दिया।


Find Us on Facebook

Trending News