25 जून 1975 को लोकतंत्र पर सबसे बड़ा हमला हुआ : नितिन नवीन

25 जून 1975 को लोकतंत्र पर सबसे बड़ा हमला हुआ : नितिन नवीन

Lakhisarai: आज ही के दिन पूरे देश में आपातकाल की घोषणा की गयी थी. इसे याद करते हुए भाजपा की ओर से इसे काला दिवस के रूप में मनाया जा रहा है. इस मौके पर पार्टी की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसकी अध्यक्षता अध्यक्षता जिला अध्यक्ष देवानंद साहू ने किया. आयोजित कार्यक्रम में लखीसराय जिला के लोगों को पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने सम्बोधित किया. उन्होंने कहा कि 25 जून 1975 को लोकतंत्र पर सबसे बड़ा हमला हुआ. जब देश में कांग्रेस ने आपातकाल लगाया. इस फैसले ने देश के विकास व लोकतंत्र का गला घोंट दिया. देश उस काले अध्याय को कभी नहीं भूलेगा. तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने सभी मौलिक अधिकारों को निरस्त कर दिया, प्रेस पर सेंसरशिप लगा दी और विपक्षी नेताओं को जेलों में बंद कर दिया. 

उन्होंने कहा की भारतीय लोकतंत्र और राजनीति के सबसे दुःखद और काले अध्याय आपातकाल के विरोध में उठी हर आवाज को सादर नमन हैं. जिन्होंने लोकतंत्र की रक्षा के लिए कई यातनाएं सही. 

इस कार्यक्रम में भाजपा जिला अध्यक्ष देवानंद साहू, महामंत्री घनश्याम कुमार और नरोत्तम कुमार, भाजपा युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष दीपक सिंह, युवा मोर्चा जिला उपाध्यक्ष अरविंद कुमार, युवा मोर्चा जिला मंत्री कश्यप गौरी शंकर और गौरव कुमार,  भाजपा आईटी सेल जिला संयोजक आलोक राज, भाजपा आईटी सेल जिला सह-संयोजक अमन कुमार, जिला प्रभारी संजय सिंह, ओबीसी मोर्चा जिला अध्यक्ष दिनेश चंद्रवंशी, सुनील सेवक सभी मंडल अध्यक्ष और सभी कार्यकर्त्ता उपस्थित थे. 

लखीसराय से कमलेश की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News