आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई तीस्ता शांडिल्य

आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई तीस्ता शांडिल्य

PATNA- अपनी आवाज़ के बल पर काफी कम उम्र में भोजपुरीया समाज में पहचान बनानी वाली, अपनी आवाज़ के जादू से सबको मोहित कर देनी वाली 17 वर्षीय भोजपुरी कलाकार तीस्ता शांडिल्य आखिरकार ज़िन्दगी की जंग हार गई. अपनी बेहतरीन आवाज़ से सबका मन मोह लेने वाली भोजपुरी कलाकार तीस्ता पिछले 3 दिनों से पटना AIIMS के वेंटिलेटर पर मौत से जंग लड़ रही थी. पिता उदय नारायण सिंह तीस्ता को बचाने के लिए दिन रात एक किए हुए थे. सोशल मीडिया पर भी तीस्ता की जिंदगी बचाने के लिए दुआएं मांगने का दौर जारी था. लेकिन अफसोस कि काल के क्रुर पंजे ने बिहार के इस होनहार बेटी को आज शाम आखिरकार ही दबोच लिया. तीस्ता भोजपुरीया गायन के मर्यादा का ख्याल रखते हुए बीते वर्षों में कई मंचों की किसान को बढ़ाया था. लोक कलाकार के तौर पर तीस्ता ने अपने जीवन की शानदार शुरूआत की थी. 

गौरतलब है की तीस्ता के पिता उदय नारायण सिंह भी भोजपुरी गायन के उम्दा कालाकार है. पिछले 8 दिनों से बीमार चल रही अपनी लाडली तीस्ता को बचाने के लिए उदय नारायण सिंह ने कोई कोर कसर छोड़ नहीं रखा था.  

Find Us on Facebook

Trending News